नई दिल्ली: आज वैशाख शुक्ल पक्ष प्रतिपदा है. आज चन्द्र दर्शन दिवस है . ऐसे में आज आप चंद्रमा को केवल 1 घंटा 6 मिनट के लिए ही देख सकेंगे. चंद्र दर्शन करने का समय शाम 6:52 से 7:58 तक होगा. चन्द्र दर्शन हिंदू मान्यताओं में धार्मिक महत्व रखता है . हर महीने जब अमावस्या के बाद पहली बार चंद्रमा दिखाई देता है उस दिन चंद्र दर्शन दिवस भारत के लगभग हर हिस्से में बहुत श्रद्धा और उत्साह के साथ मनाया जाता है. Also Read - In Dino Main Na Kare Lehsun-Pyaaz Ka Sevan: महीने के इन 5 दिनों में लहसुन और प्याज को कहें 'ना'

अमावस्या के बाद अगले दिन या दूसरे दिन को चन्द्र दर्शन दिवस कहा जाता है. जब चन्द्रमा पृथ्वी से दिखाई नहीं देता है तो इस घटना को हिन्दु धर्म में अमावस्या कहते हैं और ज्योतिष शास्त्र में मास की यह तिथि अमावस्या कहलाती है. चन्द्र दर्शन का अपना एक धार्मिक महत्व है. लोग इस दिन उपवास रखते हैं और शाम में चन्द्र दर्शन के बाद ही भोजन ग्रहण करते हैं. Also Read - Bhadrapada Amavasya 2020 Date & Time: भाद्रपद अमावस्या कल, इस दिन दान और पितृ तर्पण के लिए करें ये काम

ज्योतिष शास्त्र में चन्द्र दर्शन दिवस की गणना चुनौतीपूर्ण होती है.  इस दिन सूर्यास्त के तत्काल बाद चन्द्रमा मात्र कुछ समय के लिए ही दिखाई देता है. चन्द्र दर्शन वाले दिन चन्द्रमा और सूर्य दोनों समान क्षितिज पर स्थित होते हैं जिसकी बजह से चन्द्र दर्शन सूर्यास्त के बाद ही सम्भव होता है, जब चन्द्रमा स्वयं ही अस्त होने वाला होता है. Also Read - Margashirsha Amavasya 2018: जानिये क्या है मार्गशीर्ष अमावास्या का महत्व