Chandra Grahan 2018 date and time: 27 जुलाई को सदी का सबसे लंबा और पूर्ण चंद्रग्रहण लगने वाला है. इस चंद्रग्रहण को पूरी दुनिया देख सकेगी. हालांकि उत्तरी अमेरिका अपवाद होगा. Also Read - Lunar Eclpise 2018: 3.49 पर समाप्त होगा चंद्रग्रहण, सुबह उठकर सबसे पहले करें ये 7 काम

Also Read - लग गया सदी का सबसे बड़ा चंद्रग्रहण, Lunar Eclipse के बारे में जानिए सबकुछ

27 जुलाई को देर रात या कहें कि 28 जुलाई की सुबह सूरज उगने से पहले 1:43 घंटे के लिए चंद्रग्रहण देखा जा सकेगा. इसे ब्लड मून भी कहा जाता है. ऐसा इसलिए, क्योंकि पृथ्वी का उपग्रह चंद्रमा इस दिन लाल दिखता है. दरअसल, पूर्ण चंद्रग्रहण तब लगता है जब पृथ्वी सूर्य और चंद्रमा के बीच आ जाती है. पृथ्वी के बीच में आने से चंद्रमा तक सूर्य की रौशनी नहीं पहुंच पाती. Also Read - जिंदगी में मुश्किल से दिखता है चंद्रग्रहण का ऐसा नजारा, 'ब्लड मून' को इस तरह देखें

इस दौरान पृथ्वी के वायुमंडल से टकराकर सूर्य की रौशनी चंद्रमा पर पड़ती है, इस कारण चंद्रमा लाल दिखता है और इसे ब्लड मून कहते हैं.

Lunar Eclipse 2018: सदी के सबसे लंबे चंद्रग्रहण की उलटी गिनती शुरू

Chandra Grahan 2018 का समय:

पहले चरण में चंद्रमा पृथ्वी की छाया में आ जाता है. इसेे पेनुब्रल ग्रहण या इक्लिप्स कहते हैं. यह प्रक्रिया 27 जुलाई को रात 11:44 बजे शुरू हो जाएगी. इस बार चंद्रग्रहण दिल्ली, पुणे, बेंगलुरु और मुंबई समेत देश के सभी शहरों में देखा जा सकेगा.

क्योंकि चांद अपने ऑबिट पर चलता रहेगा, इसलिए दूसरे फेज में 28 जुलाई को सुबह 2:43 am बजे आंशिक चंद्रग्रहण होगा.

ANI की रिपोर्ट के अनुसार इस बार सूर्य, पृथ्वी और चंद्रमा बिल्कुल एक सीध में होंगे. ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, अफ्रीका और एशिया के लोग सबसे स्पष्ट तरीके से चंद्रग्रहण का नजारा देख सकेंगे.

इस साल 31 जनवरी को इस साल का पहला चंद्रग्रहण लगा था, जब चंद्रमा लाल और आकार में बड़ा दिखा था. लेकिन इसे सिर्फ कुछ देशों में ही देखा जा सका था. यह पहली बार था जब 152 साल बाद एक सुपरमून, ब्लू मून और ब्लड मून को देखा गया.

यह भी पढ़ें: Lunar Eclipse 2018: आ रहा है 21वीं सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण, 4 राशियों वाले रहें बचकर

क्या चंद्रग्रहण शरीर को भी प्रभावित करता है:

यह मान्यता है कि चंद्रग्रहण शारीरिक और मानसिक प्रभाव डालता है. देश में चंद्रग्रहण को लेकर अलग-अलग मान्यताएं हैं. हालांकि विज्ञान की ओर ऐसा कुछ नहीं कहा गया है. अगला चंद्रग्रहण 31 दिसंबर 2028 को होगा.

सावन और धर्म से जुड़ी अन्य खबरों को पढ़ने के लिए धर्म पर क्लिक करें.