Coronavirus Lockdown: कोरोनोवायरस महामारी के कारण पोप फ्रांसिस ने पहली बार सेंट पीटर्स बेसिलिका में अकेले ही पाम संडे मनाया. ऐसा इतिहास में पहली बार हुआ है. Also Read - Delhi-Haryana Border: दिल्ली-हरियाणा सीमा पार करने के लिए अब ट्रेवल पास की नहीं होगी जरूरत

एफे न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, कैथोलिक कैलेंडर में रविवार को एक महत्वपूर्ण धार्मिक त्योहार होली वीक की शुरुआत हुई, जो कि इस बार वेटिकन स्क्वायर में हर बार की तरह आयोजित नहीं हुई. वहीं इस बार समारोह में लोगों की मंडली भी शामिल नहीं हुई. Also Read - कोरोना के खिलाफ जंग में हम ही जीतेंगे, दुनिया को हमारे डॉक्टरों और वैज्ञानिकों से काफी उम्मीद: पीएम नरेंद्र मोदी

हालांकि कोविड-19 महामारी के मद्देनजर दुनियाभर में लागू आइसोलेशन में रह रहे लाखों लोगों ने इंटरनेट, रेडियो और टेलीविजन के माध्यम से प्रार्थना सभा में भाग लिया. Also Read - Coronavirus in Indore Update: मध्य प्रदेश में कोरोना का गढ़ बना इंदौर, 135 लोगों की मौत, संक्रमितों की संख्या 3500 के पार

इस दौरान पोप ने कहा, “हम जिस त्रासदी का सामना कर रहे हैं, वह हमें उन चीजों को गंभीरता से लेने के लिए कह रहा है जो वास्तव में गंभीर हैं और उसे कम नहीं आंकना चाहिए. यह फिर से समझने की जरूरत है कि यदि दूसरों की सेवा नहीं की जाती है तो जीवन का कोई फायदा नहीं है. जीवन को प्यार से मापा जाता है.”

इस दौरान सर्विस के लिए पादरी के साथ लोगों का एक छोटा समूह मौजूद था, जो एक-दूसरे से सुरक्षित दूरी बनाए हुए थे.

दुनिया भर में 12 लाख से अधिक लोगों के संक्रमित होने और इससे 66,500 लोगों की मौत होने के बाद वेटिकन में एहतियातन सख्ती बरती गई है.

गौरतलब है कि इटली में 128,948 पुष्ट मामलें सामने आए हैं और कोविड-19 के कारण यहां 15,887 मौतें हो चुकी हैं, जो कि दुनियाभर के किसी भी देश से सबसे अधिक हैं. इसी सप्ताह गुड फ्राइडे भी है. इसे भी लोग अपने-अपने घरों में ही सेलिब्रेट करेंगे.
(एजेंसी से इनपुट)