Dhanteras 2018: धनत्रयोदशी के दिन धनतेरस का त्‍योहार मनाया जाता है. ऐसी मान्‍यता है क‍ि इस द‍िन भगवान धनवंतरी का जन्‍म हुआ था, इसल‍िए इस द‍िन उनकी पूजा की जाती है. इस द‍िन मां लक्ष्‍मी और गणपत‍ि की पूजा भी की जाती है. इस बार धनतेरस का त्‍योहार 5 नवंबर को मनाया जाएगा. धनतेरस हर साल द‍िवाली से दो द‍िन पहले मनाया जाता है. Also Read - Gold buying on Dhanteras: धनतेरस पर खरीदने जा रहे हैं सोना, तो हो जाएं सावधान, जानें-कैसे करें सोने की शुद्धता की पहचान

Also Read - Gold Price Today 11 November 2020: धनतेरस से पहले सोने की चमक पड़ी फीकी, चांदी 1,431 रुपये लुढ़की

धनतेरस के द‍िन खरीदारी करना शुभ माना जाता है. ज्‍योत‍िष गुरु पंड‍ित व‍िनोद म‍िश्र के अनुसार शुभ मुहूर्त में की गई खरीदारी सफलता और समृद्ध‍ि लेक‍र आती है और घर में मां लक्ष्‍मी का वास होता है. Also Read - धनतेरस पर नहीं पड़ा सोने की महंगाई का असर, ज्यादा कीमत के बावजूद लोगों ने जमकर की शॉपिंग

Dhanteras 2018: जानिये कब है धनतेरस, क्या है पूजन का सबसे शुभ मुहूर्त

इस बार धनतेरस के द‍िन खरीदारी का तीन मुहूर्त है. आप अपने सहूल‍ियत और सुव‍िधा के अनुसार समय चुन सकते हैं.

धनतेरस के द‍िन खरीदारी का मुहूर्त

(1) सुबह 07:07 से 09:15बजे तक

(2) दोपहर 01:00 से 02:30 बजे तक

(3) रात 05:35 से 07:30 बजे तक

धनतेरस 2018 पूजा मुहूर्त-

धनतेरस पूजा का शुभ मुहूर्त: 5 नवंबर को शाम 6.05 बजे से 8.01 बजे

शुभ मुहूर्त की अवधि: 1 घंटा 55 मिनट

प्रदोष काल: शाम 5.29 से रात 8.07 बजे तक

वृषभ काल: शाम 6:05 बजे से रात 8:01 बजे तक

त्रयोदशी तिथि आरंभ: 5 नवंबर को सुबह 01:24 बजे

त्रयोदशी तिथि खत्म: 5 नवंबर को रात्रि 11.46 बजे

धर्म से जुड़ी अन्य खबरों को पढ़ने के लिए धर्म पर क्लिक करें.