देशभर में आज दिवाली (Diwali 2020) का त्योहार मनाया जा रहा है. आज रात में मां लक्ष्मी और विघ्नहर्ता भगवान गणेश की पूजा और आराधना की जाती है. . हर बार अमावस्या के दिन दिवाली (लक्ष्मी पूजन का दिन)मनाते हैं, लेकिन इस बार छोटी दिवाली और बड़ी दिवाली एक ही दिन पड़ रही है. इस बार 15 तारीख को अमावस्या होने पर भी दिवाली 14 नवंबर को मनाई जाएगी. Also Read - कर्नाटक की IPS ऑफिसर बोलीं- पटाखे जलाना 'हिंदू ट्रेडिशन' का हिस्सा नहीं, हो गईं ट्रोल

हिंदुओं के बीच दिवाली सबसे महत्वपूर्ण धार्मिक त्योहार है. दिवाली, जिसे दीपावली के नाम से भी जाना जाता है, को रोशनी के त्योहार के रूप में भी जाना जाता है. त्योहार आध्यात्मिक रूप से अंधकार पर प्रकाश की जीत, अज्ञान पर ज्ञान, बुराई पर अच्छाई और निराशा पर आशा की जीत का प्रतीक है. महा लक्ष्मी कार्तिक अमावस्या की रात में स्वयं भूलोक पर आती हैं और हर घर में प्रवेश करती हैं. दिवाली के दिन मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के तरह-तरह के उपाय किए जाते हैं. आइए जानते हैं दिवाली के दिन कौन सा काम करने से सालभर धन की बरसात होती है. Also Read - क्या! दिवाली के बाद इस गांव में लोग गोबर से खेलते हैं 'होली', देखें Video

इस मंत्र का करें जाप
यदि आप महालक्ष्मी के महामंत्र ऊँ श्रीं ह्रीं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद प्रसीद् श्रीं ह्रीं श्रीं ऊँ महालक्ष्मयै नम: का कमलगट्टे की माला से कम से कम 108 बार जाप करेंगे तो आपके ऊपर मां लक्ष्‍मी की कृपा बनी रहेगी. Also Read - सुशांत की बहन श्वेता सिंह कीर्ति ने इन लोगों से कहा- शुक्रिया, VIDEO शेयर कर जताया आभार, जानिए वजह

पीली कौड़ियां
दिवाली पर जब आप महालक्ष्मी की पूजा करें तो पूजा की थाली में पीली कौड़ियां जरुर रखें इससे आपकी धन संबंधी सभी परेशानियां दूर हो जाती है. इसके अलावा लक्ष्मी पूजन में हल्दी की गांठ जरुर रखें और पूजा के बाद इसे तिजोरी में रखें. दिवाली पर पूजा में लक्ष्मी यंत्र, कुबेर यंत्र और श्रीयंत्र स्थापित करें. स्फटिक का श्रीयंत्र बेहतर होगा.

शिवलिंग की पूजा
इस दिन ना केवल लक्ष्मी और गणेश बल्कि आप शिवलिंग की भी पूजा करें. दिवाली के दिन शिवलिंग पर अक्षत यानी चावल चढ़ाएं. ध्यान रहे सभी चावल पूर्ण होने चाहिए. खंडित चावल न हों. चावल चढ़ाने का काम मंदिर में ही करें.

पीपल के पेड़ पर जल
जैसा की आप जानते हैं दिवाली अमावस्या के दिन पड़ती है, ऐसे में इस दिन आप पीपल के पेड़ में जल जरुर दें. इससे आपका शनि दोष और कालसर्प दोष दोनों का खत्म हो जाता है. साथ ही देर रात पीपल के पेड़ के नीचे तेल का दीपक जलाएं. ध्यान रखें दीपक लगाकर चुपचाप अपने घर लौट आएं, पलटकर न देखें.

झाड़ू का दान करें
दिवाली के दिन आप मंदिर में झाड़ू का दान करें, इससे आपके घर के आसपास अगर महालक्ष्मी मंदिर है तो ऐसे में आप गुलाव सुगंध वाली अगरबत्ती का दान करें. दिवाली के दिन झाड़ू अवश्य खरीदना चाहिए. पूरे घर की सफाई नई झाड़ू से करें. जब झाड़ू का काम न हो तो उसे छिपाकर रखें.