Durga Pooja 2019: दुर्गा पूजा के दौरान लोग मां दुर्गा की विशेष रूप से पूजा-अर्चना करते हैं. दुर्गा पांडालों में जाकर देवी दुर्गा की भव्‍य मूर्तियों के आगे आराधना करते हैं.

दुर्गा पूजा का उत्‍सव मुख्‍य रूप से षष्‍ठी तिथि से आरंभ होता है. पंडालों में मां दुर्गा, सरस्‍वती, लक्ष्‍मी, कार्तिकेय, भगवान गणेश और महिषासुर की प्रतिमाओं को स्‍थापित किया जाता है.

षष्‍ठी के दिन घर की महिलाएं व्रत रखती हैं. सप्‍तमी के दिन से देवी पंडालों की रौनक देखते ही बनती है. मां दुर्गा को भोग लगाया जाता है जिसमें खिचड़ी, पापड़, सब्‍जियां, बैंगन भाजा और रसगुल्‍ला मुख्‍य हैं.

दुर्गा पूजा की खास बातें

पांडाल
दुर्गा पूजा के दौरान पांडाल आकर्षण का केंद्र रहते हैं. न सिर्फ बंगाल में बल्‍कि भारत समेत दुनिया के अलग-अलग हिस्‍सों में देवी मां के भव्‍य पंडाल स्‍थापित किए जाते हैं. एक से बढ़कर एक डिजाइन के पांडाल लोगों को अपनी ओर आकर्षित करते हैं. पांडालों के आसपास मेले लगते हैं, जिनमें खाने-पीने के ढेर सारे स्‍टॉल लगते हैं.

Durga Pooja 2019: कैसे मनाया जाता है दुर्गा उत्‍सव, जानें हर दिन का महत्‍व…

भोग
लोग घर में खजूर-गुड़ की खीर, मालपुआ और तरह-तरह की मिठाइयां बनाते हैं. और मां को इनका भोग लगाया जाता है.

धुनुची डांस
एक खास तरह के बर्तन को धुनुची कहा जाता है, जिसमें सूखे नारियल के छिलकों को जलाकर मां दुर्गा की आरती की जाती है. आरती के दौरान धुनुची के साथ भक्‍त झूमकर नाचते हैं.

ढाक
जब पंडालों में दुर्गा मां की आरती की जाती है तब ढाक बजाया जाता है. ढाक एक तरह का ढोल है जिसकी ध्‍वनि पूरे माहौल को मां की भक्ति के रंग में रंग देती है.

Durga Pooja 2019: दुर्गा पूजा तिथियां, महत्‍व, पूजन, संधि पूजा…

लाल पाड़ की साड़ी
बंगाल, असम और त्रिपुरा के लोग दुर्गा पूजा के दौरान खास तौर से लाल पाड़ की साड़ी पहनते हैं. लाल पाड़ की साड़ी एक खास तरह की सफेद साड़ी होती है जिसका बॉर्डर लाल रंग का होता है.

सिंदूर खेला
नवरात्रि के 10वें दिन विजयदशमी को मां दुर्गा को पान और मिठाई का भोग लगाया जाता है. महिलाएं एक-दूसरे को सिंदूर लगाती हैं. इस परंपरा को सिंदूर खेला कहा जाता है. मान्‍यता है कि मां दुर्गा की मांग भरकर उन्‍हें मायके से ससुराल विदा किया जाना चाहिए.

विसर्जन
सिंदूर खेला के बाद दुर्गा मां की प्रतिमा को विसर्जन के लिए ले जाते हैं. इस दौरान लोग नाचते-गाते मां की प्रतिमा को पानी में विसर्ज‍ित करते हैं.

धर्म से जुड़ी अन्य खबरें पढ़ने के लिए धर्म पर क्लिक करें.