Durga Puja 2020: हर साल धूमधाम से दुर्गा पूजा का उत्सव मनाया जाता है. शारदीय नवरात्रि में तीन दिन, महासप्तमी, महाअष्टमी, महानवमी पर विशाल पांडांलो में मां का पूजन होता है. पर इस साल कोरोना के कारण स्थितियां काफी अलग हैं.Also Read - UNESCO ने कोलकाता की दुर्गा पूजा मानवता की अमूर्त सांस्कृतिक विरासत सूची में शामिल किया | Latest News Video

दिल्ली में सीआर पार्क की दुर्गापूजा काफी फेमस है. हर साल यहां हजारों की तादाद में लोग दुर्गापूजा मनाते हैं, लेकिन कोविड 19 के चलते इस बार दुर्गापूजा भव्य तरीके से नहीं मनाई जाएगी. इस साल दुर्गापूजा को वर्चुअल तरीके से मनाए जाने की तैयारियां चल रही हैं, तो वहीं कुछ जगहों पर दुर्गापूजा नहीं मनाई जाएगी. Also Read - यूनेस्को ने दुर्गा पूजा उत्सव को 'सांस्कृतिक विरासत' का दर्जा दिया, PM मोदी और CM ममता बनर्जी ने जताई खुशी

चितरंजन पार्क काली मंदिर सोसाइटी के सेक्रेटरी सिरीबाश भट्टाचार्य ने बताया, “अभी हम लोगों को सभी चीजें क्लियर नही हुई हैं. लेकिन हमने सोचा है कि एक छोटी 4 फुट की मूर्ति बनाकर पूजा करें, लेकिन इसमें लोग शामिल नहीं होंगे, ये पूजा पूरी तरह ऑनलाइन होगी.” Also Read - बंगाल में मूर्ति विसर्जन के बाद लोगों पर देसी बम फेंके गए, मध्य प्रदेश में जुलूस में कार घुसाई

“हमने इसके लिए लोकल टीवी से बात की है, जो इस पूजा का ऑनलाइन प्रसारण करेगा. हालांकि हम उसे इसके लिए पैसे देंगे, अभी फिलहाल चीजों पर चर्चा की जा रही है.”

उन्होंने बताया, “इस बार भोग (प्रसाद) नहीं होगा, कल्चरल प्रोग्राम ऑनलाइन किये जा रहे हैं. सब कुछ सरकार की गाइडलाइंस के हिसाब से किया जाएगा.”

चितरंजन पार्क दुर्गा समिति बी ब्लॉक ग्राउंड के जनरल सेक्रेटरी सुप्रकाश मजूमदार ने बताया, “इस बार कोई पूजा नहीं हो रही है, सिर्फ एक दिन के लिए होगी, जिसमें मूर्ति नहीं होगी, न ही पंडाल लगाया जा रहा है. हमने एक जगह चिन्हित की है, वहीं पूजा की जाएगी और उसमें 10 लोग शामिल होंगे.”