नई दिल्ली: ईद-उल-फित्र (Eid ul Fitr) मुस्लिमों का सबसे बड़ा त्योहार है, जो रमजान के महीने के पूरा होने पर मनाया जाता है. इस दिन मस्जिदों को सजाया जाता है, लोग नए कपड़े पहनते हैं, घरों में एक से बढ़कर एक पकवान बनते हैं, छोटों को ईदी दी जाती है और एक-दूसरे से गले लगकर ईद की मुबारकबाद दी जाती है. हालांकि, इस साल लॉकडाउन के चलते, सभी लोग अपने-अपने घरों में ही ईद मनाएंगे. इस्लामिक कैलेंडर के अनुसार, रमज़ान के बाद 10वें शव्वाल की पहली तारीख को ईद-उल-फितर का त्योहार मनाया जाता है. अब सवाल यह उठता है कि आखिर ईद कब मनाई जाएगी. Also Read - Eid ul Fitr 2020 : आज बंद रहेगी जामा मस्जिद, केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नक़वी ने घर पर ही अदा की नमाज

ईद के समय और दिन की बात की जाए तो ईद का जश्न अलग-अलग देशों पर निर्भर करता है. सबसे पहले चाँद को सऊदी अरब में देखा जाता है उसके बाद ही बाकी दुनिया में ईद मनाई जाती है. भारत आमतौर पर सऊदी अरब में चांद दिखने के दूसरे दिन ईद मनाई जाती है. Also Read - Corona और Lockdown से फीकी पड़ी ईद की रंगत, नहीं सजे बाजार, त्योहार में सूनी पड़ी सड़कें

आपको बता दें कि 22 मई को सऊदी अरब में चांद नहीं दिखा था. जिसके बाद अब शनिवार यानी 23 मई को चांद के दीदार का अनुमान लगाया जा रहा है. यदि आज चांद दिखाई देता है तो भारत में 24 मई को ईद मनाई जाने की संभावना है. और अगर यदि सऊदी अरब में शनिवार को भी चांद का दीदार नहीं हुआ तो भारत में सोमवार को यानी 25 मई 2020 को ईद मनाई जाएगी. Also Read - Eid in Kerala 2020 Live Chand Raat: केरल में आज नजर आ सकता है ईद का चांद