Phulera Dooj 2020: फुलेरा दूज पर भगवान श्रीकृष्‍ण की पूजा की जाती है. इस दिन भगवान के साथ मां राधा के विधि-विधान पूजन से भगवान प्रसन्‍न होते हैं और मनचाहा वरदान देते हैं. Also Read - Phulera Dooj 2020: फुलेरा दूज तिथि, राधा-कृष्‍ण को चढ़ाया जाता है गुलाल, महत्‍व, क्‍यों मानते हैं अबूझ मुहूर्त, पूजन विधि

ये दिन है दांपत्‍य जीवन में खुशियां भरने का. इस दिन किए गए उपाय शादीशुदा जीवन को नए उत्‍साह से भर देते हैं. Also Read - Phulera Dooj 2019: कब मनाई जाती है फुलैरा दूज, जानिए शुभ मुहूर्त और महत्‍व

फुलेरा दूज पर करें ये विशेष उपाय

– राधा-कृष्ण की पूजा करें. उन्‍हें अबीर चढ़ाएं. संभव हो तो साथ मिलकर पूजन करें.

– इस दिन मन में ‘राधेकृष्ण’ जपें.

– बेडरूम की पलंग पर गुलाबी रंग का धागा बांध दें. गुलाबी रंग के वस्त्र धारण करें.

– श्रीराधा-कृष्ण को मिठाई का भोग लगाएं.

– भगवान श्रीकृष्ण को जो गुलाल अर्पित करें, उससे अपने माथे पर तिलक करें.

– विवाहित महिलाएं इस दिन राधा जी को सुहाग की सामग्री अर्पित करें. इनमें से कोई एक चीज अपने पास रखें. बाकी किसी सुहागन स्त्री को दान दे दें.

– रंग-बिरंगे फूलों से राधा-कृष्ण का श्रृंगार करें. उनसे दांपत्‍य जीवन में खुशियों का आशीर्वाद मांगें.

फुलेरा दूज का हिंदू धर्म में काफी महत्‍व है. इसे साल के अबूझ मुहूर्त में से एक माना जाता है. इस दिन भगवान कृष्ण संग मां राधा का पूजन कर उन्‍हें गुलाल अर्पित किया जाता है. इस साल फुलेरा दूज 25 फरवरी, मंगलवार को है.

धर्म की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.