नई दिल्ली: दोस्त हमारे जीवन का बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा होते हैं. दोस्तों से हम अपने मन मकी सभी बाते शेयर करते हैं. एक सच्चा दोस्त वो होता है जो आपको कभी उदास नहीं रहने देता, वो आपको हमेशा खुश रखने की कोशिश करता है. आपका एक सच्चा दोस्त वो होता है जो आपकी गैरमौजूदगी में भी आपकी बुराई नहीं सुन सके. लेकिन कई बार इंसान सच्चा दोस्त चुनने में गलती कर देता है. इससे वह मुसीबत में भी फंस जाता है. कई बार लोग सच्ची दोस्ती का दिखावा करके आपके साथ धोखा करते हैं. ऐसे दोस्त आपके लिए परेशानी का सबब बन सकते हैं. अर्थशास्त्र के आदर्श माने जाने वाले चाणक्य ने अपने नीति शास्त्र में कुछ बातों का उल्लेख किया है. चाणक्य ने अपने शास्त्रों में बताया है कि सच्चे दोस्त की पहचान कैसे की जाती है. Also Read - Chanakya Niti For Marriage: शादी से पहले पार्टनर के बारे में जरूर जान लें ये बातें, वरना बर्बाद हो जाएगा आपका जीवन

– कभी भी ऐसे व्यक्ति को अपना मित्र ना बनाएं जो सामने तो आपकी तारीफ करता हो लेकिन मौका मिलते ही आपके पीछे लोगों से आपकी बुराई करता है. ऐसे मित्र कभी भी आपके सगे नही होते. ऐसे में इन लोगों से दूर रहने में ही भलाई होती है. Also Read - Chanakya Niti: बनना चाहते हैं अमीर तो जीवन में जरूर अपनाएं चाणक्य की ये बातें

– कभी भी किसी पर आंख बंद करके भफरोसा ना करें फिर वह आपका सच्चा मित्र ही क्यों ना हो. इसके पीछे बड़ा कारण यह है कि कभी मित्र से लड़ाई होने पर वह आपके उन सभी राज़ को खोल सकता है जो आपके उसपर भरोसा करके उसे बताएं हैं. Also Read - किन जगहों पर इंसान को कभी नहीं रुकना चाहिए?

– हमें अपने हम उम्र लोगों से ही दोस्ती करें. कई बार अपनी उम्र सो छोटे और बड़े लोगों से दोस्ती करने से रिश्तों में दरार आने की संभावना ज्यादा रहती है. आपो बता दें कि अक्सर लोग उन व्यक्तियों के दोस्त बनने की कोशिश करते हैं जो अमीर होते हैं. ऐसे में किसी से भी दोस्ती करते समय इन बातों का खास ख्याल रखें.

– हमेशा ऐसे लोगों से दोस्ती करें जिनकाा स्वभाव आपकी तरह हो . विपरीत स्वभाव के लोग कभी भी आपके दोस्त नहीं बन सकते हैं. वह कहने के लिए तो आपके दोस्त होंगे लेकिन यह रिश्ता केवल दिखावे का होगा.

– व्यक्ति को चाहिए कि वह हमेशा मित्रों के चयन से पहले उसे जांच परख ले तथा खूब सोच विचार कर ले क्योंकि एक बार यदि दोस्ती गाढ़ी हो गई तो उसके बाद उसके परिणाम और दुष्परिणाम सामने आने लगते हैं.