Ganesha Jayanti 2020: गणेश जयंती (Ganesh Jayanti) का विशेष महत्‍व है. माघ माह में पड़ने वाली गणेश जयंती पर भगवन गणेश जी की पूजा से पूरे साल उनका आशीर्वाद प्राप्‍त होता है. Also Read - Happy Ganesh Jayanti 2020: गणेश जयंती पर भेजें ये बधाई संदेश, देखें GIFs, Greetings

Ganesha Jayanti 2020 Date

गणेश जयंती इस साल 28 जनवरी, मंगलवार को है. इसी दिन विनायक चतुर्थी (Vinayaka Chaturthi) भी मनाई जाएगी. Also Read - Ganesh Jayanti 2020: लाल रंग के प्रयोग से खुश होंगे गणपति, इन आठ गणेश अवतारों का लें नाम, संपूर्ण पूजन विधि

Basant Panchami 2020: कब है बसंत पंचमी, सरस्‍वती पूजा का महत्‍व, शुभ मुहूर्त, विद्यार्थी ऐसे करें पूजा

Ganesha Jayanti Importance

गणेश जयंती को माघ शुक्‍ल चतुर्थी (Magha Shukla Chaturthi), तिलकुंड चतुर्थी (Tilkund Chaturthi) और वरद चतुर्थी (Varad Chaturthi) कहा जाता है. इस व्रत का हिंदू धर्म में काफी महत्‍व है. माघ महीने की गणेश जयंती का व्रत करने से भगवान गणेश भक्‍तों के संकटों को दूर करते हैं और उनकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण करते हैं.

दक्षिण भारतीय मान्‍यता के अनुसार इस दिन श्रीगणेश का जन्‍मदिवस है. इस तिथि पर की गई गणेश पूजा अत्याधिक लाभ देने वाली होती है. अग्निपुराण में भी भाग्य और मोक्ष प्राप्ति के लिए तिलकुंड चतुर्थी के व्रत का विधान बताया गया है.

गणेश जयंती के व्रत, पूजा व उपाय से संकटों का नाश होता है. मनोविकार दूर होते हैं व समस्‍याओं का समाधान होता है.

इस चतुर्थी पर चंद्रदर्शन निषेध है और देखने पर मानसिक विकार उत्‍पन्‍न होते हैं, ऐसा कहा गया है.

Panchang 2020 Hindu Calendar: होली, करवाचौथ, दिवाली, कब पड़ेगा कौन सा त्‍योहार, देखें 2020 का कैलेंडर

Ganesha Jayanti Shubh Muhurat

गणेश जयंती पर पूजा का शुभ मुहूर्त ये है-
गणेश जयंती पूजा मुहूर्त- दोपहर 11:45 से 1:58 बजे तक.
समय: 2 घंटे 13 मिनट

गणेश जयंती- क्‍या करें क्‍या नहीं

इस दिन भगवान गणेश को तिल के लड्डू अर्पित करने चाहिए. तिल का प्रसाद भी बांटा जाता है. नहाने के पानी में भी तिल मिलाकर स्‍नान करते हैं. व्रत रखते हैं. गणेश जयंती के दिन चंद्र दर्शन करना वर्जित  माना जाता है.

धर्म की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.