Guru Nanak Jayanti 2019 को दुनिया भर में धूमधाम से मनाया जाता है. इससे गुरु नानक गुरुपर्व, गुरु नानक जयंती भी कहा जाता है. इस दिन सिखों के पहले गुरु नानक जी की जयंती का उत्‍सव मनाया जाता है.

गुरु नानक
गुरु नानक जी का जन्‍म 15 अप्रैल 1469 को तलवंडी नामक स्थान पर हुआ था. हिंदू पंचांग के अनुसार, कार्तिक महीने की पूर्णिमा के दिन उनका जन्‍मदिन होता है. इसलिए इसे प्रकाश पर्व भी कहा जाता है. इस साल गुरुनानक की 550वीं जयंती है.

Guru Nanak Jayanti 2019 Date
गुरु नानक जयंती इस बार 12 नवंबर को मनाई जाएगी. पूर्णिमा तिथि 11 नवंबर को शाम 6:02 बजे से आरंभ होगी और 12 नवंबर शाम 7:04 बजे तक रहेगी.

क्‍या करते हैं इस दिन
गुरुनानक पर्व को गुरु के पवित्र दिन के रूप में मनाया जाता है. इस दिन उनके अनुयायी उनकी बताई गई शिक्षा को याद करते हैं और उस पर चलने का संकल्‍प लेते हैं. इस दिन गुरुद्वारों में दो दिन का अखंड पाठ होता है. गुरु ग्रंथ साहिब का बिना रुके 48 घंटे तक पाठ होता है.

गुरुपर्व से एक दिन पहले नगरकीर्तन का आयोजन किया जाता है. जुलुस में पीछे-पीछे अनुयायी होते हैं जो कीर्तनी और भजन गाते हुए आगे बढ़ते हैं.

पर्व वाले दिन गुरुनानक जयंती का उत्सव सुबह 3 बजे से ही शुरू हो जाता है. सुबह 3 से 6 बजे तक के समय को अमृतबेला कहा जाता है. जिसे भजन और ध्यान के पाठ के लिए उपयुक्त माना जाता है. इसके बाद कथा और कीर्तन का आयोजन होता है.

धर्म से जुड़ी अन्य खबरें पढ़ने के लिए धर्म पर क्लिक करें.