नई दिल्ली। पूरी दुनिया में 27 जुलाई को सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण लगने जा रहा है. दुनिया के अधिकतर देश इस ऐतिहासिक घटना से रूबरू होंगे और आकाश में इस खगोलीय घटना को साफ तौर से देखा जा सकेगा. भारत में इसे गुरु पूर्णिमा के नाम से भी मनाया जाता है. हिंदू धर्म में आस्था रखने वाले लोग आषाढ़ पूर्णिमा के दिन अपनी भक्ति गुरु को समर्पित करते हैं.

Guru Purnima 2018: जानें कब है गुरु पूर्णिमा और इस बार क्यों है खास

इस दिन अपने गुरु से आशीर्वाद लिया जाता है और बधाई संदेश भेजे जाते हैं. लोग अपने गुरुजनों से आशीर्वाद लेते हैं और उनसे सीख लेते हैं. इस मौके पर संदेशों का आदान प्रदान होता है. ऐसे ही कुछ संदेश हम आपको बता रहे हैं जिन्हें आप भेज सकते हैं.

1. अक्षर ज्ञान ही नहीं, गुरु ने सिखाया जीवन ज्ञान
गुरुमंत्र को कर आत्मसात, हो जाओ भवसागर से पार
शुभ गुरु पूर्णिमा 2018

2.तुमने सिखाया उंगली पकड़कर हमें चलना
तुमने बताया कैसे गिरने के बाद संभलना
तुम्हारी वजह से आज हम पहुंचे इस मुकाम पर
गुरु पूर्णिमा के दिन करते हैं आभार प्रणाम से
गुरु पूर्णिमा की शुभकामनाएं

guru-purnima

3.समय भी सिखाता है और शिक्षक भी, दोनों में अंतर है सिर्फ इतना
शिक्षक लिखकर परीक्षा लेता है, और समय परीक्षा लेकर सिखाता है
शुभ गुरु पूर्णिमा

4. गुरु बिन ज्ञान नहीं, ज्ञान बिना आत्मा नहीं
ध्यान, ज्ञान, धैर्य और कर्म सब गुरु की ही देन है
गुरु पूर्णिमा की शुभकामनाए

5. गुरुर्ब्रह्मा ग्रुरुर्विष्णुः गुरुर्देवो महेश्वरः

गुरुः साक्षात् परं ब्रह्म तस्मै श्री गुरवे नमः

(भावार्थ: गुरु ब्रह्मा है, गुरु विष्णु है,गुरु  ही शंकर है; गुरु  ही साक्षात् परब्रह्म है; उन सद्गुरु को प्रणाम)