नई दिल्ली: जामा मस्जिद के शाही इमाम, इमाम बुखारी ने शुक्रवार को घोषणा की कि रमजान के अंत में मनाया जाने वाला पवित्र त्योहार ईद-उल-फितर भारत में शनिवार को मनाया जाएगा. बुखारी ने कहा कि नया चांद शुक्रवार शाम लगभग 7.35 बजे दिख गया है. बुखारी ने कहा कि ईद-उल-फितर के पाक मौके पर मैं सभी देशवासियों को दिली मुबारकबाद और शुभकामनाएं देता हूं. ईद का त्योहार नया चांद दिखने के अगले दिन शुरू होने वाले शव्वाल के महीने के पहले दिन मनाया जाता है. अगर आपने अब तक अपने दोस्तों को ईद मुबारक का एसएमएस और वाट्सऐप मैसेज नहीं भेजा है तो हम आपके लिए कुछ चुनिंदा SMS और वाट्सऐप लेकर आए हैं, जिसे आप अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को भेजकर ईद मुबारक कह सकते हैं.

1

रात को नया चाँद मुबारक,
चाँद को चाँदनी मुबारक,
फलक को सितारे मुबारक,
सितारों को बुलन्दी मुबारक,
और आपको हमारी तरफ से ईद मुबारक…

2

चुपके से चाँद की रौशनी छू जाये आपको;
धीरे से ये हवा कुछ कह जाये आपको;
दिल से जो चाहते हो मांग लो खुदा से;
हम दुआ करते हैं वो मिल जाये आपको.
ईद मुबारक़!

3

ईद का चाँद जो देखा तो तमन्ना लिपटी
उन से तक़रीब-ए-मुलाक़ात का रिश्ता निकला

4

रमजान में ना मिल सके;
ईद में नज़रें ही मिला लूं;
हाथ मिलाने से क्या होगा;
सीधा गले से लगा लूं.
ईद मुबारक

5

उस से मिलना तो उसे ईद-मुबारक कहना
ये भी कहना कि मिरी ईद मुबारक कर दे

6

दीपक में अगर नूर ना होता;
तन्हा दिल यूँ मजबूर ना होता;
मैं आपको “ईद मुबारक” कहने जरूर आता;
अगर आपका घर इतना दूर ना होता.
ईद मुबारक!

7

सदा हँसते रहो जैसे हँसते हैं फूल;
दुनिया के सारे गम तुम जाओ भूल;
चारों तरफ फ़ैलाओ खुशियों के गीत;
इसी उम्मीद के साथ तुम्हें मुबारक हो ईद.
ईद मुबारक

8

 

सूरज की किरणें तारों की बहार;
चाँद की चाँदनी अपनों का प्यार;
हर घड़ी हो ख़ुशहाल;
उसी तरह मुबारक हो आपको ईद का त्योंहार.
ईद मुबारक!
महक उठी है फ़ज़ा पैरहन की ख़ुशबू से
चमन दिलों का खिलाने को ईद आई है

9

ज़िन्दगी का हर पल खुशियों से कम न हो;
आप का हर दिन ईद के दिन से कम न हो;
ऐसा ईद का दिन आपको हमेशा नसीब हो;
जिसमें कोई दुःख और कोई गम न हो!
ईद मुबारक!

10

दिए जलते और जगमगाते रहें;
हम आपको इसी तरह याद आते रहें;
जब तक जिंदगी है ये दुआ है हमारी;
आप ईद के चाँद की तरह जगमगाते रहें.
ईद मुबारक!

11

आग़ाज़ ईद है, अंजाम ईद है;
सच्चाई पे चलो तो हर ग़म ईद है;
जिसने भी रखे रोज़े;
उन सब के लिए अल्लाह की तरफ से इनाम ईद है.
ईद मुबारक़!

12

तू मेरी दुआओं में शामिल है इस तरह;
फूलों में होती है खुशबु जिस तरह;
अल्लाह तुम्हारी जिंदगी में इतनी खुशियाँ दे;
ज़मीन पर होती है बारिश जिस तरह.
ईद मुबारक!

13

आज खुदा की हम पर हो मेहरबानी;
करदे माफ़ हम लोगो की सारी नाफ़रमानी;
ईद का दिन आज आओ मिलकर करें यही वादा;
खुदा की ही राहों में हम चलेंगे सदा यही है हमारा वादा.
ईद मुबारक!

14

15

ईद लेकर आती है ढेर सारी खुशियां;
ईद मिटा देती है इंसान में दूरियां;
ईद है ख़ुदा का एक नायाब तबारक;
और हम भी कहते हैं आपको ईद मुबारक.