Ganesha Jayanti 2020 पर लोग गणेश पूजा करते हैं. हर साल माघ मास की शुक्‍ल पक्ष चतुर्थी को ये पर्व मनाया जाता है. Also Read - Ganesh Jayanti 2020: लाल रंग के प्रयोग से खुश होंगे गणपति, इन आठ गणेश अवतारों का लें नाम, संपूर्ण पूजन विधि

इस पर्व का हिंदू धर्म में विशेष महत्‍व है. भगवान गणेश के प्रिय दिनों में से इस दिन को एक माना जाता है. इस साल 28 जनवरी, मंगलवार को गणेश जयंती के अलावा विनायक चतुर्थी भी है. Also Read - Ganesh Jayanti 2020: आज है माघी गणेश जयंती, महत्‍व, शुभ मुहूर्त, क्‍या करें क्‍या नहीं

लोग इस दिन की शुरुआत गणेश पूजन से करते हैं. इस दिन की शुभकामनाएं एक-दूसरे को देते हैं. अगर आप भी इस साल ऐसी विशिज भेजना चाहते हैं तो ये भेज सकते हैं.

Ganesh Jayanti 2020: लाल रंग के प्रयोग से खुश होंगे गणपति, इन आठ गणेश अवतारों का लें नाम, संपूर्ण पूजन विधि

देखें बधाई संदेश-

गणेश जयंती के अवसर पर उनकी पूजा में लाल रंग का अधिक से अधिक प्रयोग करें.

पुराणों में भी गणेश जयंती की महिमा का बखान किया गया है. इस दिन गणेश पूजा करने से जन्‍मों के कष्‍ट दूर होते हैं.

Ganesh Jayanti 2020: माघी गणेश जयंती तिथि, महत्‍व, शुभ मुहूर्त, क्‍या करें क्‍या नहीं

इस दिन विघ्‍नहर्ता श्रीगणेश को मोदक का प्रसाद अवश्‍य चढ़ाएं.

गणेश जयंती को माघ शुक्‍ल चतुर्थी (Magha Shukla Chaturthi), तिलकुंड चतुर्थी (Tilkund Chaturthi) और वरद चतुर्थी (Varad Chaturthi) भी कहा जाता है.

मान्‍यता के अनुसार इस दिन श्रीगणेश का जन्‍मदिवस है. इस तिथि पर की गई गणेश पूजा अत्याधिक लाभ देने वाली होती है. अग्निपुराण में भी भाग्य और मोक्ष प्राप्ति के लिए तिलकुंड चतुर्थी के व्रत का विधान बताया गया है. इस चतुर्थी पर चंद्रदर्शन निषेध है और देखने पर मानसिक विकार उत्‍पन्‍न होते हैं, ऐसा कहा गया है.

धर्म की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.