Haridwar kumbh 2021: हरिद्वार कुंभ में आज शाही स्नान है. चैत्र पूर्णिमा के अवसर पर साधु-संतों और आम लोगों ने आस्था की डुबकी लगाई. इस अवसर पर संतों ने कोरोना से बचाव का संदेश दिया.Also Read - भारत में आएगी कोरोना की चौथी लहर? इस आईआईटी प्रोफेसर ने किया है ये दावा-जानिए क्या कहा

आमतौर पर शाही स्नान पर संत लाव-लश्कर के साथ गंगा स्नान के लिए पहुंचते हैं पर इस बार ऐसा नजारा नहीं था. Also Read - कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक 9 मई को AICC मुख्यालय में होगी | पढ़ें दिन भर की सभी बड़ी खबरें...

संतों ने मास्क लगाया और वे कोविड नियमों का पालन करते भी दिखे. बैरागी संत भी बड़ी संख्या में पहुंचे. Also Read - अब इस राज्य में भी मास्क पहनना हुआ जरूरी, नहीं लगाया तो देना होगा 500 रुपये का जुर्माना, जानिए कहां

मंगलवार सुबह से ही तस्वीरें आनी शुरू हो गईं. जिन अखाड़ों ने इस शाही स्नानी में भाग लिया, उनमें पंचायती अखाड़ा निरंजनी पहले थे.

इसके बाद पंचदशनाम जूना अखाड़ा,  पंच अग्नि, आह्वान अखाड़ा पहुंचे. सभी ने समाजिक दूरी का पालन करते हुए स्नान किया. फिर बैरागियों का स्नान शुरू हुआ. तीन बैरागी अखाड़ों ने स्नान किया.

वहीं आम लोगों को कुंभ स्नान के लिए सुबह 9:30 बजे तक का समय दिया गया था. इस दौरान काफी लोगों ने स्नान किया.