Hariyali Teej 2020 Puja: श्रावण मास (sharavan) की शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को हरियाली तीज मनाई जाती है. तीज पर महिलाएं शिव-पार्वती की आराधना करके अपने मंगलमय दांपत्य जीवन की कामना करती हैं. तीज न सिर्फ सुखी दांपत्य जीवन की कामना का पर्व है, पूरे परिवार के सुखमय जीवन की कामना का भी पर्व है. दांपत्य जीवन अगर खुशहाल है तो पूरा परिवार खुशहाल होगा ही. इस बार हरियाली तीज 23 जुलाई यानी गुरुवार को मनाई जाएगी. हरियाली तीज सुहागिन औरतों के लिए बेहद खास माना जाता है. इस दिन महिलाएं व्रत रखती हैं. और सावन के झूले झूलती है. हरियाली तीज का व्रत सुहागिन औरतें पति की लंबी उम्र के लिए रखती हैं.  हरियाली तीज में महिलाएं एकसाथ मिलकर भजन व लोक गीत गाती हैं. अगर आप भी हरियाली तीज का व्रत रखती हैं और पूजन भी करती हैं तो आपको पसे इसकी तैयारी कर लेनी चाहिए जिससे कि पूजा के समय किसी भी चीज की कमी न पड़े और आपको व्रत-पूजा का पूरा फल मिल सके. Also Read - Hariyali Teej 2020 Quotes: हरियाली तीज के मौके पर दोस्तोंं और परिवारजनों को भेजें ये SMS,कोट्स और मैसेज

पूजा में रखें ये (hariyali teej puja samagri) सामग्री Also Read - Hariyali teej 2020 Subh Muhurat: Aaj 23 जुलाई को मनाई जाएगी हरियाली तीज, यहां जानें शुभ मुहूर्त और पूूजा विधि

हरियाली तीज की पूजा में काले रंग की गीली मिट्टी, पीले रंग का कपड़ा, बेल पत्र , केले के पत्ते, धतूरा, आंकड़े के पत्ते, तुलसी, शमी के पत्ते, जनेऊ,धागा और नया कपड़ा रखें। वहीं, पार्वती श्रंगार के लिए चूडियां, महौर, खोल, सिंदूर, बिंदी, बिछुआ, मेहंदी, आल्ता, सुहाग पूड़ा, कुमकुम, कंघी, सुहागिन के श्रृंगार की चीज़ें। इसके अलावा श्रीफल, कलश, अबीर, चंदन, तेल और घी, कपूर, दही, चीनी, शहद ,दूध और पंचामृत आदि। पूजा शुरू करने से पहले काली मिट्टी के प्रयोग से भगवान शिव और मां पार्वती तथा भगवान गणेश की मूर्ति बनाएं। फिर थाली में सुहाग की सामग्रियों को सजा कर माता पार्वती को अर्पित करें। Also Read - Hariyali Teej 2020 Mehendi Designs: हरियाली तीज पर लगाएं मेहंदी के ये लेटेस्ट डिजाइन

हरियाली तीज व्रत विधि

– इस दिन साफ-सफाई कर घर को तोरण-मंडप से सजायें. मिट्टी में गंगाजल मिलाकर शिवलिंग, भगवान गणेश और माता पार्वती की प्रतिमा बनाएं और इसे चौकी पर स्थापित करें.

– मिट्टी की प्रतिमा बनाने के बाद देवताओं का आह्वान करते हुए षोडशोपचार पूजन करें.

– हरियाली तीज व्रत का पूजन रातभर चलता है. इस दौरान महिलाएं जागरण और कीर्तन भी करती हैं.

– इस दिन महिलाएं सोलह श्रृंगार करके निर्जला व्रत रखती हैं और पूरी विधि-विधान से मां पार्वती और भगवान शिव की पूजा करती हैं.