इस बार होली (Holi) का त्‍योहार बेहद खास है. वजह ये है कि इस बार होली पर्व पर महासंयोग पड़ रहा है. Also Read - Holi Skin Care: होली पर त्‍वचा का ऐसे रखें ख्‍याल, इन घरेलू नुस्‍खों को जरूर आजमाएं

Holi 2019: सदियों से इस कारण मनाई जा रही है होली, ये बातें जानते हैं आप? Also Read - टमाटर, फूल तो कहीं गुलाल बरसाकर मनाई जा रही होली, राष्ट्रपति, पीएम मोदी और राहुल गांधी ने दी बधाई

ये संयोग इसलिए भी खास है क्‍योंकि ये सात साल बाद पड़ रहा है. ज्‍योतिष नजरिए से इसे बेहद खास माना जा रहा है. Also Read - गुजरात के इस गांव में लोग दहकते अंगारों पर चलकर मना रहे होली, देखें वीडियो

होलिका दहन
होलिका दहन इस बार पूर्वा फाल्गुन नक्षत्र में है. यह शुक्र का नक्षत्र है जो जीवन में उत्सव, हर्ष, आमोद-प्रमोद, ऐश्वर्य के प्रतीक हैं. होलिका दहन में शरीर में उबटन लगाकर उसके अंश डालते हैं. ऐसा करने से जीवन में आरोग्यता और सुख समृद्धि आती है.

Holi 2019: कब है होली, जानिए होलिका दहन के नियम और शुभ मुहूर्त

होली क्‍यों है खास
चैत कृष्ण प्रतिपदा 21 मार्च, गुरुवार को है. सात साल के बाद देवगुरु बृहस्पति के उच्च प्रभाव में होली मनाई जाएगी. इस बार उत्तर फाल्गुनी नक्षत्र में होली है. चूंकि यह नक्षत्र सूर्य का है, और सूर्य आत्मसम्मान, उन्नति, प्रकाश का कारक है. इससे पूरे साल सूर्य की कृपा मिलेगी.

Holi 2019
इस साल यह पर्व 21 मार्च 2019, गुरुवार को मनाया जाएगा. यानी 20 मार्च को होलाष्टक खत्‍म होने के साथ होलिका दहन होगा और 21 मार्च को रंगों के साथ त्योहार मनाया जाएगा. होलिका दहन को लोग छोटी होली भी कहते हैं.

धर्म की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.