माना जाता है कि घर से निकलते समय अगर कुछ उपाये कर लिए जाएं तो यात्रा में किसी प्रकार का संकट नहीं आता और आप खुशी-खुशी घूमकर सुनहरी यादें लेकर लौटते हैं. Also Read - Vastu Tips: एक डोरमैट भी लगा सकता है आपके हंसते-खेलते घर में आग, यहां जानें पायदान रखने का सही तरीका

Also Read - Makar Sankranti Horoscope: मकर संक्रांति पर खुलेंगे बंद किस्मत के ताले, जानें राशि अनुसार क्या होगा असर

तो आइये जानें वो 10 महत्‍वपूर्ण उपाय, जिन्‍हें यात्रा पर जाने से पहले पूरा करने पर आपकी यात्रा सरल, सुखद और मंगलमय हो जाती है. Also Read - Makar Sankranti 2021 Rashifal: मकर संक्रांति पर खुलेगी इन 5 राशियों की किस्मत, पढ़ें संपूर्ण राशिफल

  1. घर से निकलने से पहले घर के मंदिर में 11 अगरबत्ती और शुद्ध घी का दीया जलाएं. साथ ही कूंकु, हल्दी, अबीर, गुलाल, चावल और फूल थाली में रखकर भगवान की आरती करें. साथ ही भगवान से यात्रा के सकुशल रहने की कामना कीजिए. इसके बाद काले तिल अपने ऊपर से स्वयं ही सात बार उतार कर उत्तर दिशा में फेंक दें. इससे किसी प्रकार की बुरी बला टल जाती है.
  2. घर से निकलने से पहले स्वर का ध्यान रखें. जो स्वर चल रहा हो सबसे पहले उसी पैर को बाहर निकालें.
  3. घर से निकलते समय कुछ शब्दों को कभी नहीं बोलना चाहिए- जैसे जूता, चप्पल, लकड़ी, किसी भी प्रकार की गाली, ताला, रावण, पत्थर, नहीं, मरना, डूबना, फेंकना, छोड़कर आना, और कोई भी निगेटिव शब्द.
  4. यात्रा के लिए जब भी घर से निकले उससे पहले शुभ चौघडि़या जरूर देखें.
  5. जब यात्रा पर निकले तो भूलकर भी किसी नदी, आग और हवा के बारे में अपमान भरी बातें न कहें. माना जाता है कि ये ईश्वर की तीन पवित्र देन हैं, इसलिए इनका कभी मजाक नहीं करना चाहिए.
  6. घर से निकलते समय एक सुर में भगवान का नाम या पवित्र मंत्र या मंगलवचनों का प्रयोग करें. आपकी यात्रा मंगलकारी होगी.
  7. घर से निकलने से पहले चावल की छोटी ढेरी पर कलश और सवा रुपया रखकर अगरबत्ती से आरती करें. साथ ही प्रार्थना करें कि यात्रा में किसी प्रकार की बाधा न आए. इसके बाद यात्रा से लौटे तो वह रुपया, चावल और पानी शिव मंदिर में चढ़ाएं.
  8. घर से निकलने से पहले चिटिंयों को आटा डालें, पंछियों को दाना डालें, काले कुत्ते को रोटी, और गाय को भीगा अनाज खिलाएं.
  9. अगर संभव हो तो घर के सबसे करीब जो मंदिर हो उसमें नारियल चढ़ाएं. साथ ही कुछ पैसे दान पेटी के बजाय मंदिर में ही कहीं छुपाकर रखें. यह गुप्त दान माना जाता है, यात्रा के लिए शुभ फलदायी सरल टोटका है.
  10. एक डिब्बे में दाल, चावल, आटा, शकर, फल, फूल और मिठाई रखें. जब आप नए साल का उत्‍सव मनाकर लौटे तो उसे किसी पंडित या गरीब को दान कर दें.

धर्म की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.