Jaya Ekadashi 2021: माघ माह की शुक्ल पक्ष की एकादशी को जया एकादशी (Jaya Ekadashi ) के नाम से जाना जाता है. इस दिन भगवान विष्णु की पूजा की जाती है. जया एकादशी के व्रत को श्रेष्ठतम व्रतों में से एक माना जाता है. माना जाता है कि इस दिन भगवान विष्णु की पूजा करने से व्यक्ति के सभी दुख खत्म हो जाते हैं. यह एकादशी बहुत ही पुण्यदायी है, इस एकादशी का व्रत करने से व्यक्ति नीच योनि जैसे भूत, प्रेत, पिशाच की योनि से मुक्त हो जाता है.Also Read - Jaya Ekadashi 2021 Remedies: जया एकादशी आज, भूलकर भी ना करें ये काम, अपनाएं ये उपाय

जया एकादशी शुभ मुहूर्त- (Jaya Ekadashi 2021 Shubh Muhurat) Also Read - Jaya Ekadashi 2021 Date: इस दिन मनाई जाएगी जया एकादशी, जानें शुभ मुहूर्त, कथा और व्रत विधि

एकादशी तिथि प्रारम्भ – फरवरी 22, 2021 को 05:16 पी एम बजे
एकादशी तिथि समाप्त – फरवरी 23, 2021 को 06:05 पी एम बजे
जया एकादशी पारणा शुभ मुहूर्त- 24 फरवरी को सुबह 06 बजकर 51 मिनट से लेकर सुबह 09 बजकर 09 मिनट तक.
पारणा अवधि- 2 घंटे 17 मिनट.

जया एकादशी के दिन ना करें इन चीजों का सेवन

जया एकादशी के दिन न तो चने और न ही चने के आटे से बनी चीजें खानी चाहिए. शहद खाने से भी बचना चाहिए. ब्रह्मचर्य का पूर्ण रूप से पालन करना चाहिए. इस व्रत में भगवान विष्णु की पूजा में धूप, फल, फूल, दीप, पंचामृत आदि का प्रयोग करें. इस व्रत में द्वेष भावना या क्रोध को मन में न लाएं. परनिंदा से बचें. इस व्रत में अन्न वर्जित है.