Vinayak Chaturthi 2021: हिंदू पंचांग के मुताबिक, शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को विनायक चतुर्थी का त्योहार मनाया जाता है. हर महीने में दो चतुर्थी आती हैं. इस बार विनायक चतुर्थी का त्योहार 15 मई 2021 को मनाई जाएगी. विनायक चतुर्थी (Kab Hai Vinayak Chaturthi) के दिन भगवान गणेश की पूजा की जाती है. माना जाता है कि इस दिन व्रत रखने से सभी समस्याओं से छुटकारा मिलता है. जो श्रद्धालु विनायक चतुर्थी का उपवास करते हैं भगवान गणेश उसे ज्ञान और धैर्य का आशीर्वाद देते हैं. Also Read - Kab Hai Vinayak Chaturthi 2021: इस दिन है विनायक चतुर्थी, इस शुभ मुहूर्त पर करें भगवान गणेश की पूजा

विनायक चतुर्थी का शुभ मुहूर्त (Vinayak Chaturthi 2021 Shubh Muhurat) Also Read - Today’s Panchang, April 16, 2021: विनायक चतुर्थी पर पढ़ें आज का पंचांग, जानें भगवान गणेश की पूजा का शुभ मुहूर्त

वैशाख, शुक्ल चतुर्थी
प्रारम्भ – 07:59 ए एम, मई 15
समाप्त – 10:00 ए एम, मई 16 Also Read - Kab Hai Vinayak Chaturthi 2021: इस दिन मनाई जाएगी विनायक चतुर्थी, यहां जानें भगवान गणेश की पूजा का शुभ समय और विधि

विनायक चतुर्थी पूजन विधि (Vinayak Chaturthi Pujan Vidhi)

गणेश पूजा दोपहर को मध्याह्न काल के दौरान की जाती है. भगवान गणेश के पूजन से विघ्न दूर होते हैं. व्‍यापार में बढ़ोत्‍तरी होती है. पूजा के बाद दान किया जाता है. इस दिन ब्रह्म मूहर्त में उठकर स्नान करें. व्रत का संकल्प लें. दोपहर में भगवान गणेश का पूजन करें. उन्हें दूर्वा अर्पित करें. पूजन कर श्री गणेश की आरती करें. ॐ गं गणपतयै नम: का एक माला जप करें. श्री गणेश को बूंदी के 21 लड्डुओं का भोग लगाएं. इसके बाद प्रसाद स्वरूप इन्हें बांटे.

विनायक चतुर्थी महत्व (Vinayak Chaturthi 2021 Importance)
चतुर्थी तिथि भगवान गणेश को अत्यंत प्रिय है. इसलिए चतुर्थी को भगवान गणेश सभी भक्तों की मनोकामना पूर्ण करते हैं. ज्ञान और धैर्य का आशीर्वाद देते हैं.