नई दिल्ली: कोरोना वायरस लॉकडाउन के चलते बद्रीनाथ धाम के कपाट खोलने की तारीख को आगे बढ़ा दिया गया है. यह इतिहास में पहली बार है जब मंदिर के कपाट खोलने की तारीख को आगे बढ़ाया जा रहा है. बता दें कि अब केदारनाथ धाम के कपाट 14 मई को और बद्रीनाथ धाम के कपाट 15 मई को खोले जाएंगे. उत्तराखंड के संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने यह घोषणा की है. Also Read - Unlock 1.0: राज्यों ने लॉकडाउन में और अधिक छूट देते हुए अलग-अलग दिशानिर्देश जारी किए; आज से चलेंगी 200 विशेष ट्रेनें

बद्रीनाथ धाम के कपाट खुलने की तिथि बसंत पंचमी को टिहरी राज दरबार पंचांग गणना के आधार पर होती  है. इस वर्ष पहली बार निर्धारित तिथि के अनुरूप तिथि में बदलाव किया गया है. बद्रीनाथ धाम के धर्माधिकारी भुवन चंद्र उनियाल का कहना है कि पहली बार कपाट खुलने की तिथि में परिवर्तन हुआ है और ये इतिहास में पहली बार हुआ. Also Read - यूपी: कोरोना मरीजों के लिए एक लाख बेड तैयार, इतनी बड़ी तैयारी करने वाला देश का पहला राज्य

सतपाल महाराज ने बताया कि बद्रीनाथ धाम के कपाट आगामी 15 मई को सुबह 4:30 बजे खोले जाएंगे. बता दें कि पहले बद्रीनाथ धाम के कपाट खुलने की तिथि 30 अप्रैल निर्धारित की गई थी. केदारनाथ धाम के कपाट 29 अप्रैल को खुलने थे. लेकिन कोरोना संक्रमण के कारण धाम के कपाट खोलने की तिथि में बदलाव किया गया है. इससे पहले साल 2013 में आई आपदा के समय कपाट तो खुल चुके थे और बद्रीनाथ की पूजा निरंतर जारी थी. जबकि केदारनाथ इलाके में भयानक नुकसान के चलते पूजा बाधित हुई थी और पुजारी मूर्ति को लेकर ऊखीमठ आ गए थे. सितंबर में सफाई के बाद दोबारा वहां पूजा हुई थी और कपाट परंपरा मुतबिक बंद किए गए थे. Also Read - लॉकडाउन बढ़ने की बात सुन महिला ने खाया ज़हर, ससुराल से मायके न जा पाने से थी परेशान