प्रयागराज: बीमारियों को कम करने के उद्देश्य से भोजन ग्रहण करने से पहले हाथ धोने की स्वस्थ आदत को प्रोत्साहित के लिए कीटाणु संरक्षण ब्रांड लाइफबॉय ने कुंभ में अनोखी पहल की है. ‘स्वस्थ चेतना थाली’ के जरिये 20 करोड़ लोगों तक हाथ धोने का स्वच्छता संदेश फैलाया जाएगा. कंपनी ने एक बयान में कहा कि लाइफबॉय ने पहले भी लोगों को रोटी पर छपे संदेश के साथ हाथ धोने की याद दिलाने के लिए कुंभ के अवसर का इस्तेमाल किया था, और इस बार भोजन परोसने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली थालियों का उपयोग किया है.

Maghi Purnima 2019: माघी पूर्णिमा कब है, जानिए इस दिन का महत्‍व

‘स्वस्थ चेतना थाली’ के नाम से पहचानी जाने वाली इन थालियों पर ‘कृपया पहले साबुन से हाथ धोयें’ का एक संदेश अंकित है, जो बिना हाथ धोए भोजन न करने का आह्वान है, जिससे कई बीमारियों से बचा जा सकता है. कुंभ के साथ-साथ, लाइफबॉय इस विचार को भक्तों को भोजन परोसने वाले 35 अन्य धार्मिक जनसमूहों में भी ले जा रहा है, जिसमें अनुमानित तौर पर वर्ष भर में 20 करोड़ लोग शामिल होते हैं. एचयूएल के स्किन क्लींजिंग के महाप्रबंधक हरमन ढिल्लों ने कहा कि हमें उम्मीद है कि भोजन करने से पहले एक साधारण रिमाइंडर लोगों की आदतों में सार्थक बदलाव लायेगा, जो अधिक से अधिक लोगों को खाने से पहले अपने हाथ धोने के लिए प्रोत्साहित कर सकता है. लाइफबॉय हाथ धोने के जरिये लोगों को बीमारियों से बचाने और स्वास्थ्य में सुधार लाने के तरीके खोजने के लिए प्रतिबद्ध है.

चारधाम यात्रा 2019: कब खुलेंगे बद्रीनाथ धाम के कपाट, जानिए यहां का ऐतिहासिक महत्‍व

2013 में भी चलाया था अभियान
2013 में लाइफबॉय के कुंभ अभियान को व्यापक रूप से सराहा गया था, क्योंकि तब लाइफबॉय ने मेले में 100 से अधिक ढाबों और होटलों के साथ रोटियां परोसने के लिए पार्टनरशिप किया था. इस बार हाथ धोने का संदेश थाली पर अंकित किया गया है. (इनपुट एजेंसी)

Kumbh 2019: प्रयागराज कुंभ के ये हैं मुख्य आकर्षण, मेले में आने से पहले जरूर पढ़ें…