लखनऊ: प्रयागराज में कुंभ 2019 का आगाज जल्‍द होने वाला है. घंटा-घड़ियालों के साथ गूंजते वेदमंत्र और धूप-दीप की सुगंध से नहाए पंडालों, धूनी जमाए साधना में लीन साधुओं के साथ संगम नगरी प्रयागराज में अर्ध-कुंभ के दौरान कुछ ऐसा ही नजारा होगा. जिसे देखने के लिए न सिर्फ भारत, बल्कि सात समंदर पास से भी श्रद्धालु और सैनानी खिंचे चले आएंगे. आइये जानते हैं प्रयागराज कुंभ में पहुंचने के साधन.

Kumbh 2019: प्रयागराज कुंभ के ये हैं मुख्य आकर्षण, मेले में आने से पहले जरूर पढ़ें…

प्रयागराज (इलाहाबाद) में 15 जनवरी 2019 से शुरू होने वाले कुंभ मेले में पहुंचने के लिए देश में सभी जगह से रेल, बस या एयर सुविधा उपलब्ध है. चूंकि इस बार अर्धकुंभ में देश-विदेश के श्रद्धालु प्रयागराज आएंगे. इसके लिए उड़ान योजना से संगम नगरी को शहरों से जोड़ा जा रहा है. शहर के बमरौली एयरपोर्ट से पटना, लखनऊ, नागपुर, इंदौर, बेंगलुरु के लिए हवाई सेवा शुरू हो चुकी है. नए टर्मिनल का शुभांरभ होने से जल्‍द ही मुंबई, भोपाल, भुवनेश्‍वर, देहरादून, गोरखपुर, कोलकाता, पूणे, रायपुर और जयपुर के लिए भी हवाई सेवा शुरू होनी है. इसके अलावा प्रयागराज महत्वपूर्ण धार्मिक और प्रशासनिक स्थल होने के कारण रेल और सड़क के माध्यम से भारत के सभी प्रमुख शहरों से जुड़ा हुआ है.

Kumbh Mela 2019 Date: जानिये कब से शुरू हो रहा है कुंभ मेला, किन तारीखों को होगा शाही स्नान, देखें पूरी लिस्ट

सड़क मार्ग से कैसे पहुंचे
प्रयागराज शहर देश के नेशनल और स्‍टेट हाइवे के माध्यम से देश के सभी हिस्सों से जुडा हुआ है. आप राजस्थान, दिल्ली, जम्मू-कश्मीर, मध्यप्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र, पंजाब और हरियाणा की राजधानी से सीधे प्रयागराज पहुंच सकते हैं. बस सेवा के माध्‍यम से आने वाले पर्यटकों और तीर्थ यात्रियों के लिए प्रयागराज में तीन बस अड्डे हैं, जो अंतरराज्यीय बस सेवाओं के माध्यम से देश के विभिन्न मार्गों तक पहुंचाते हैं.

कुंभ 2019: जूना अखाड़े की पेशवाई के साथ मेले की औपचारिक शुरुआत

रेल मार्ग से कैसे पहुंचे
बता दें कि प्रयागराज (इलाहाबाद) उत्तर-मध्य रेलवे जोन का मुख्यालय है. यहां पर 10 रेलवे स्टेशन हैं जो भारत के प्रमुख शहरों जैसे दिल्ली, मुंबई, बेंगलुरु, चेन्नई, हैदराबाद, कोलकाता, इंदौर, भोपाल, ग्वालियर, जयपुर, लखनऊ, वाराणसी, कानपुर, पुणे, रायपुर, देहरादून, भुवनेश्वर आदि से जुड़े हुए हैं. सभी स्थानों से रेल मार्ग सुलभ है और उनसे सम्बन्धित बुकिंग आई.आर.सी.टी.सी. बेवसाइट irctc.co.in से की जा सकेती है.

  1. इलाहाबाद छिवकी (ACOI)
  2. नैनी जंक्शन (NYA)
  3. इलाहाबाद जंक्शन (ALD)
  4. फाफामऊ जंक्शन (PFM)
  5. सूबेदारगंज (SFG)
  6. इलाहाबाद सिटी (ALY)
  7. दारागंज (DRGJ)
  8. झूसी (JI)
  9. प्रयाग घाट (PYG)
  10. प्रयाग जंक्शन (PRG)

Kumbh 2019: कुंभ में ये अखाड़े लगाते हैं आस्‍था की डुबकी, जानें इनका पूरा इतिहास

वायु मार्ग से कैसे पहुंचे
प्रयागराज (इलाहाबाद) से 12 किलोमिटर दूर इलाहाबाद डोमेस्टिक हवाई अड्डा है जिसे बमरौली एयर फोर्स बेस भी कहा जाता है. इसके अलावा इलाहाबाद के निकटतम अन्य दो हवाई अड्डे हैं- प्रयागराज से लगभग 130 किलोमिटर दूर वाराणसी में लाल बहादुर शास्त्री हवाई अड्डा और प्रयागराज से लगभग 200 किलोमिटर दूर उत्तरप्रदेश की राजधानी लखनऊ में अमौसी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा. उधर, एयर इंडिया कुंभ मेला के लिए विभिन्न शहरों और इलाहाबाद के बीच विशेष उड़ानों का संचालन शुरू करने जा रही है. एयर इंडिया ने जारी विज्ञप्ति में बताया कि विशेष उड़ानें 13 जनवरी से 30 मार्च के बीच संचालित होंगी. इनके जरिये इलाहाबाद को दिल्ली, अहमदाबाद और कोलकाता के साथ जोड़ा जाएगा. दिल्ली-इलाहाबाद उड़ान (एआई 403) का संचालन सोमवार, बुधवार, शुक्रवार, शनिवार और रविवार को किया जायेगा. इलाहाबाद-अहमदाबाद उड़ान का संचालन बुधवार और शनिवार को होगा जबकि इलाहाबाद-कोलकाता उड़ान का संचालन शुक्रवार और रविवार को होगा.

प्रयाग कुंभ 2019 को लेकर बना ऐसा प्‍लान, मेले से लौटकर भी ताजा रहेगी आपकी याद

बमरौली एयरपोर्ट पर ये सुविधाएं
-300 यात्रियों के बैठने की सुविधा
-नाइट लैंडिंग भी हो सकेगी
-6700 वर्ग मीटर में बना है सिविल टर्मिनल
-200 कारों के लिए पार्किंग और 20 कारों के लिए आरक्षित पार्किंग

यह है किराया
दिल्‍ली से प्रयागराज (इलाहाबाद) का न्‍यूनतम किराया 3028 रुपये है.
लखनऊ से इलाहाबाद (प्रयागराज) का न्‍यूनतम किराया 1024 रुपये है

मेले में कैसे पहुंचे
मेले में पहुंचने के लिए बस स्टाप, स्टेशन, एयरपोर्ट से आपको स्थानीय गाड़ी, ऑटो रिक्शा, सिटी बसें और अंतरराज्यीय बसें मिल जाएगी.

धर्म की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.