भोपाल: मध्य प्रदेश सरकार 3,600 श्रद्धालुओं को उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में चल रहे कुंभ मेले में स्नान करने का अवसर देने जा रही है. इसके लिए राज्य के चार स्थानों से अलग-अलग विशेष ट्रेन रवाना होंगी. यात्रा का सारा खर्च राज्य सरकार वहन करेगी. आधिकारिक तौर पर गुरुवार देर रात जारी एक बयान में बताया गया कि, राज्य से तीन विशेष ट्रेन रवाना होंगी जिनमें सवार होकर 3,600 श्रद्घालु प्रयागराज जाऐंगे. तय कार्यक्रम के अनुसार, 12 फरवरी से प्रयागराज कुंभ मेले के लिए मुख्यमंत्री तीर्थ-दर्शन योजना के अंतर्गत विशेष ट्रेन रवाना होगी.

Kumbh Mela 2019: कब है अगला शाही स्‍नान, जानिए अमृत बचाने में किसका था योगदान?

बयान के मुताबिक, हबीबगंज रेल्वे स्टेशन से 12 फरवरी को यात्रा की शुरुआत होगी. बुरहानपुर से 14 फरवरी, शिवपुरी से 22 फरवरी और परासिया से 24 फरवरी को कुंभ मेले के लिए विशेष ट्रेन रवाना होंगी. इनमें भोपाल, विदिशा, सागर, दमोह, बुरहानपुर, खण्डवा, हरदा, जबलपुर, परासिया, शिवपुरी, अशोकनगर, गुना, इटारसी, कटनी, नरसिंहपुर के तीर्थ-यात्री शामिल होंगे. प्रत्येक ट्रेन में तीर्थ-यात्रियों की देख-रेख के लिए दस-दस सुरक्षाकर्मी साथ रहेंगे. यात्रा पांच दिन की होगी.

Kumbh Mela 2019: कुंभ में आकर्षण का केंद्र बना गऊ ढाबा, जानिए कितने रुपये की है एक थाली

इस रास्‍ते से जाएगी ट्रेन
बयान में कहा गया कि हबीबगंज से जाने वाली ट्रेन में भोपाल, विदिशा, सागर और दमोह के 900 तीर्थ-यात्री शामिल होंगे. बुरहानपुर से रवाना हो रही ट्रेन में बुरहानपुर-खण्डवा-हरदा-जबलपुर के 900, शिवपुरी-अशोकनगर-कटनी के 900 और परासिया से जाने वाली ट्रेन में परासिया, छिंदवाड़, बैतूल, इटारसी, होशंगाबाद, नरसिंहपुर के 900 तीर्थ-यात्री यात्रा में शामिल होंगे.

Kumbh Mela 2019: कुंभ में कल्‍पवास का है विशेष महत्‍व, जानें क्‍या कहता है पद्म पुराण…

ये मिलेगी सुविधा
कुंभ मेले में जाने वाले यात्रियों के लिए भोजन, चाय, नाश्ता, रुकने की व्यवस्था और तीर्थ-स्थल तक बसों से ले जाने और लाने और गाइड की व्यवस्था रहेगी. कुंभ जाने वाले तीर्थ-यात्रियों से अपने व्यक्तिगत उपयोग की सामग्री अपने साथ रखने के लिए कहा गया है.

Kumbh 2019: कुंभ में ये अखाड़े लगाते हैं आस्‍था की डुबकी, जानें इनका पूरा इतिहास

धर्म की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.