Eid in Saudi Arabia 2020: रमजान का पाक महीना खत्म हो गया है. मुसलमानों के 29 कठिन रोजे पूरे हो गए हैं. संयुक्त अरब अमीरात, सऊदी अरब सहित खाड़ी देशों में लोग चाँद का दीदार करने को बेताब थे. आज पूरी उम्मीद थी कि आसमां की काली चादर में दमकता हुआ चांद दिखाई देगा. लोग आंख गड़ाए एक टक चांद को ढूंढते रहे लेकिन ऐसा हो ना सका. इसके बाद अब वहां रविवार (24 मई) को ईद का त्यौहार मनाया जाएगा. Also Read - Eid ul Fitr 2020 : आज बंद रहेगी जामा मस्जिद, केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नक़वी ने घर पर ही अदा की नमाज

eid mubarak, eid mubarak shayari, eid shayari, eid mubarak wishes in urdu, eid mubarak wishes in hindi, eid mubarak wishes in hindi shayari, eid shayari in hindi, eid mubarak wishes, eid mubarak images 2020, eid mubarak in urdu text, eid ul fitr 2020, eid wishes in hindi, eid mubarak shayari in hindi font, eid mubarak in urdu, eid wishes in urdu, shayari on eid, how to wish eid mubarak in urdu, eid mubarak images, eid mubarak sms in urdu, eid shayari urdu, chand raat mubarak, eid mubarak shayari hindi, eid mubarak shayari in hindi, eid mubarak 2020, eid 2020, eid mubarak shayari in urdu, Also Read - Corona और Lockdown से फीकी पड़ी ईद की रंगत, नहीं सजे बाजार, त्योहार में सूनी पड़ी सड़कें

ऐसे मनाया जाता है ईद का त्योहार
इस दिन मुस्लिम धर्म के लोग घर में मीठे पकवान बनाते हैं. एक दूसरे से गले मिलकर सारे गिले-शिकवा दूर करते हैं. घर में बनी मीठी सेवइयां दिलों में मिठास भर देती हैं. इस दिन सभी मुस्लिम मस्जिद में नमाज पढ़ने जाते हैं. अपने परिवारजनों. दोस्तों. रिश्तेदारों के लिए दुआ मांगते हैं. इसमें ग़रीबों को फितरा देना वाजिब है जिससे वो लोग जो ग़रीब हैं मजबूर हैं अपनी ईद मना सकें. सही मायने में दिलों को मिलाने का त्योहार है ईद. खुदा का लोगों को एक साथ मिलकर रहने का पैगाम है ईद. दिल से अल्लाह तक पहुंचने का रास्ता है ईद. इस दिन मुसलमान अल्लाह का शुक्रिया भी अदा करते हैं क्योंकि उनकी रहमत करम के कारण ही उनमें इतने कठिन रोज़ा रखने की हिम्मत आई. Also Read - Eid in Kerala 2020 Live Chand Raat: केरल में आज नजर आ सकता है ईद का चांद

(फोटो साभार: Pixabay, सिर्फ प्रतीकात्‍मक उपयोग के लिए)

शुक्रवार को हुई अलविदा जुमा की ख़ास नमाज़
रमजान के पाक महीने का आखिरी अशरा हम सब के बीच है. इस महीने के आखिरी जुमा यानी शुक्रवार को अलविदा जुमा (Alvida Juma)कहते हैं. यह जुमा एहसास दिलाता है कि रमजान (Ramzan) का ये नेक महीना अब हमारे बीच से रूख़सत जरूर हो रहा है लेकिन नेक काम करने का खुदा का ये पैगाम हमारी जिंदगी से कभी खत्म नहीं होगा.