Magha Purnima 2019 इस बार 19 फरवरी को है. इस दिन दान-स्‍नान का काफी महत्‍व बताया गया है. पर इस बार की माघ पूर्णिमा इसलिए खास है क्‍योंकि इस दिन तीन योग बन रहे हैं. Also Read - Kumbh Mela 2019: माघी पूर्णिमा पर 12 बजे तक 80 लाख श्रद्धालुओं ने लगाई गंगा में डुबकी

Also Read - Kumbh Mela 2019: माघी पूर्णिमा पर ऐसा है प्रयाग कुंभ का नज़ारा, देखें VIDEO

Kumbh Mela 2019: इस दिन हैं कुंभ के आखिरी दो प्रमुख स्‍नान, आप भी लगाएं आस्‍था की डुबकी Also Read - Kumbh Mela 2019: प्रयाग में माघी पूर्णिमा का स्नान शुरू, श्रद्धालुओं का उमड़ा रेला

पंडितों के अनुसार इस माघ पूर्णिमा पर सर्वार्थ सिद्धि योग, रवि योग, बुधादित्य योग बन रहे हैं. इस कारण इस दिन पितृ दोष की शांति के लिए पितरों को श्राद्ध करना सर्वश्रेष्‍ठ होगा.

इसके अलावा पवित्र नदियों में स्नान की परंपरा है. जिससे पुण्‍य प्राप्‍त होता है. इसके अलावा गरीबों को भोजन, कपड़ा, तिल, गुड़ दान करने का नियम बताया गया है.

कब से शुरू होगी पूर्णिमा

माघ या माघी पूर्णिमा 19 फरवरी को 1:11 बजे से प्रारंभ हो जाएगी, जो रात 9:23 बजे तक रहेगी.

Maghi Purnima 2019: माघी पूर्णिमा कब है, जानिए इस दिन का महत्‍व

तीन योग

सूर्योदय के साथ ही सर्वार्थ सिद्धि योग की निष्पत्ति होगी. इसके बाद सुबह 9:28 बजे से गजकेसरी योग प्रारंभ हो जाएगा. इसके अलावा रवि योग और बुधादित्य योग भी बन रहे हैं.

माघ पूर्णिमा

जब चन्द्रमा अपनी राशि कर्क में होता है और सूर्य, शनि की राशि मकर में होता है तब माघ पूर्णिमा का योग बनता है. इस योग में सूर्य और चन्द्रमा एक दूसरे से सामने होते हैं. इस योग को पुण्य योग भी कहा जाता है. इस योग में स्नान करने से सूर्य और चंद्रमा से मिलने वाले कष्ट शीघ्र नष्ट हो जाते हैं.

धर्म की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.