Maha Shivratri 2019: महाशिवरात्रि पर देवों के देव महादेव को प्रसन्‍न करने वाला आस्‍था से परिपूर्ण महाशिवरात्रि का व्रत सबसे महत्‍वपूर्ण होता है. जो शख्‍स भगवान शिव में आस्‍था रखते हैं वह भोले के महाशिवरात्रि व्रत को जरूर करते हैं. हिन्‍दू धर्म में, महाशिवरात्रि व्रत, पूजा, कथा और उपायों पर खास महत्‍व होता है. इस बार महाशिवरात्रि 4 मार्च 2019 की है. Also Read - Maha Shivratri 2020: राशि के अनुसार शिवलिंग पर जलाभिषेक कर चढ़ाए ये चीजे, भोलेनाथ की कृपा संग बरसेगा पैसा

Also Read - Maha Shivratri 2020 Wishes: महाशिवरात्रि पर दोस्‍तों को हिंदी में भेजें ये मैसेज, Quotes और GIFs, कहें जय भोलेनाथ

Mahashivratri 2019: कब है महाशिवरात्रि, जानिए शुभ मुहूर्त, व्रत का महत्व और पूजन विधि Also Read - Happy Maha Shivratri 2020: महाशिवरात्रि पर भेजें ये SMS, Whats App, Facebook Messages

महाशिवरात्रि पर व्रत रखने और भगवान शिव को जल चढ़ाने का खास महत्‍व है. इस दिन व्रती शिवलिंग पर जल, भांग, धतूरा, फूल आदि चढ़ाकर पूजा करते हैं. ऐसी मान्‍यता है कि इस दिन पूजा करने से सभी की मनोकामना पूरी हो जाती है. शिवपुराण में पूजन के बारे में बताया गया है कि इस दिन सूर्योदय से पूर्व उठकर स्‍नान करना चाहिए. इसके बाद घर में पूजा करने के साथ-साथ मंदिर में भी पूजा करनी चाहिए. इस दिन शिवलिंग पर जल अर्पित कर पूजा सामग्री भी चढ़ानी चाहिए.

Mahashivratri 2019: महाशिवरात्रि पर कैसे करें भगवान शिव की पूजा, जानिए व्रत का तरीका

महाशिवरात्रि का शुभ मुहूर्त

4 मार्च को महाशिवरात्रि का पारण होगा.

संगम से साधुओं का काशी कूच, महाशिवरात्रि स्‍नान को दिया नारा- ‘अब चलो महादेव के धाम’

पूजा का शुभ मुहूर्त

सुबह 7:04 बजे से दोपहर 15:20 बजे तक

महाशिवरात्रि 4 मार्च 2019, सोमवार

चारधाम यात्रा 2019: कब खुलेंगे केदारनाथ धाम के कपाट, इस दिन तय होगी तारीख

शिवरात्रि पूजा मुहूर्त

निशीथ काल पूजा मुहूर्त 24:07 से 24:57 बजे

शिवरात्रि व्रत पारण समय 06:46 से 15:26 बजे (5 मार्च 2019, मंगलवार)

Maha Shivratri 2019: राशि के अनुसार जानें महाशिवरात्रि पर किस मंत्र का करें जाप

चतुर्दशी तिथि आरंभ

4 मार्च 2019, सोमवार 16:28 बजे

चतुर्दशी तिथि समाप्‍त

5 मार्च 2019, मंगलवार 19:07 बजे

धर्म की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.