Makar Sankranti 2019: मकर संक्रांति का त्‍यौहार हिन्‍दू धर्म के प्रमुख त्‍योहारों में से एक है. यह त्‍यौहार माघ माह में कृष्‍ण पंचमी को मकर संक्रांति देश के लगभग सभी राज्‍यों में अलग-अलग सांस्‍कृतिक रूपों में मनाई जाती है. इस‍ दिन सूर्य उत्‍तरायण होता है, जब उत्‍तरी गोलार्ध सूर्य की ओर मुड़ जाता है. मकर संक्रांति में स्‍नान, दान, पुण्‍य, जप, तप, श्राद्ध और अनुष्‍ठान आदि का सौ गुना फल प्राप्‍त होता है. खुशी और समृद्धि का प्रतीक मानकर संक्रांति त्‍यौहार सूर्य के मकर राशि में प्रवेश करने पर मनाया जाता है. ऐसे में इस दिन सूर्य की पूजा करने से सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं, साथ ही जीवन में आने वाली बाधाएं भी दूर हो जाती हैं.

Makar Sankranti 2019: मकर संक्रांति पर क्‍यों बनाई जाती है खिचड़ी? आपकी राशि से ये है संबंध…

ऐसी मान्‍यता है कि Makar Sankranti के दिन सूर्य के 12 नामों का जाप करके जल चढ़ाने वालों को विशेष फल की प्राप्ति होती है. प्रतिदिन सूर्य नमस्कार करने से मन शांत और प्रसन्न होता है… धन, यश, प्रसिद्धि और सम्मान मिलने लगते हैं. तो आइए जानते हैं भगवान सूर्य के वो 12 नाम जिनका जाप करके जल चढ़ाने पर आपकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण होंगी और घर में धन और यश की बरसात होगी.

Makar Sankranti 2019: मकर संक्रांति के दिन करें ये काम, सितारे होंगे बुलंद 

सूर्य के 12 नाम इस प्रकार से हैं:- 

  1. ॐ सूर्याय नम:
  2.  ॐ भास्कराय नम:
  3.  ॐ रवये नम:
  4.  ॐ मित्राय नम:
  5.  ॐ भानवे नम:
  6.  ॐ खगय नम:
  7.  ॐ पुष्णे नम:
  8.  ॐ मारिचाये नम:
  9.  ॐ आदित्याय नम:
  10.  ॐ सावित्रे नम:
  11.  ॐ आर्काय नम:
  12.  ॐ हिरण्यगर्भाय नम:

Makar Sankranti 2019: क्‍या है मकर संक्रांति का महत्‍व, इस दिन जप, तप, दान, स्‍नान क्‍यों जरूरी है?

धर्म की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.