Makar Sankranti 2019 को हिन्दुओं का प्रमुख पर्व माना गया है. मकर संक्रांति को लेकर कहा गया है कि सूर्य एक राशि में एक माह रहते हैं और जब सूर्य अपने पुत्र शनि की राशि मकर में जाते हैं तो वह संक्रांति, मकर संक्रांति कहलाती है. इस दिन से सूर्य उत्तरायण हो जाते हैं और खरमास समाप्त हो जाते हैं. इसके साथ ही संपूर्ण मांगलिक कार्य भी आरंभ हो जाते हैं. इस साल मकर संक्रांति पौष माह के शुक्ल पक्ष की नवमी को है. 14 को रात्रि में 02 बजकर 10 मिनट पर सूर्य मकर में प्रवेश करेंगे. 15 जनवरी को उदय तिथि पड़ने के कारण मकर संक्रांति 15 को ही मनाई जाएगी. मकर संक्रांति का पुण्य काल 15 जनवरी प्रातःकाल से सूर्यास्त तक रहेगा. पूरे दिन पर्व का शुभ मुहूर्त है. Also Read - Makar Sankranti 2020: मकर संक्रांति के दिन राशि के अनुसार जरूर करें इन चीजों का दान, चमकेगा भाग्य

Also Read - Pongal 2020: कब और कैसे मनाते हैं पोंगल, जानिए मकर संक्रांति व लोहड़ी से इसका कनेक्‍शन

Makar Sankranti 2019: क्‍या है मकर संक्रांति का महत्‍व, इस दिन जप, तप, दान, स्‍नान क्‍यों जरूरी है? Also Read - Kharmas 2019: कब तक रहेगा खरमास, जानिए खरमास में क्या करें और क्या न करें

मकर संक्रांति को लेकर मान्‍यता है कि इसी दिन माता गंगा भगीरथ के पीछे चलकर गंगासागर में मिली थीं. भीष्म पितामह ने इसी दिन अपने शरीर का त्याग किया था. इसी महापर्व पर विष्णु जी ने असुरों की समाप्ति कर युद्ध समाप्ति की घोषणा की थी. इस साल मकर संक्रांति पौष माह के शुक्ल पक्ष की नवमी को है. मकर संक्रांति का पुण्य काल 15 जनवरी प्रातःकाल से सूर्यास्त तक रहेगा. पूरे दिन पर्व का शुभ मुहूर्त है. ऐसे में सुबह उठकर पवित्र नदी में स्नान करके सूर्यदेव को जल चढ़ाना चाहिए. साथ ही श्री आदित्यहृदयस्तोत्र का तीन बार पाठ भी करना चहिए.

Makar Sankranti 2019: मकर संक्रांति के दिन करें ये काम, सितारे होंगे बुलंद 

घर में खिचड़ी बनाते और बांटते हैं लोग

मान्‍यता है कि इस दिन गुरु गोरखनाथ जी को खिचड़ी चढ़ाई जाती है. ऐसे में हर घर में मकर संक्रांति के दिन खिचड़ी बनाई जाती है और लोग खिचड़ी ही खाते हैं. साथ ही दूसरों को बांटते भी हैं. इसके अलावा तिल के लड्डू का प्रयोग भी होता है. इस दिन दान का बहुत महत्व है. गरीबों में ऊनी वस्त्र का दान करें. इस दिन दान करने से सूर्य तथा शनि दोनों का आशीर्वाद प्राप्त होता है.

Happy Lohri 2019: भेजें ये WhatsApp Message, Facebook Status, SMS और दें लोहड़ी की लख-लख बधाई…

मकर संक्रांति का शुभ मुहूर्त

पुण्य काल का मुहूर्त: 07:19 बजे से 12:30 बजे तक

अवधि : 5 घंटे 11 मिनट

संक्रांति क्षण : 20:05, 14 जनवरी 2019

महा पुण्यकाल का मुहूर्त : 07:19 बजे से 09:03 बजे तक

अवधि : 1 घंटा 43 मिनट

धर्म की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.