Mangalwar Puja Vidhi: हिंदू मान्याओं के मुताबिक सप्ताह का प्रत्येक दिन एक भगवान को समर्पित होता है. आज यानि मंगलवार के दिन हनुमान जी की पूजा-अर्चना की जाती है. कहा जाता है कि हनुमान जी की पूजा करने से भगवान राम भी प्रसन्न होते हैं. हनुमान जी को बजरंगल बली, संकटमोचन और पवरपुत्र हनुमान के नाम से भी जाना जाता है. मान्यता है कि हनुमान जी की पूजा अर्चना करने से सभी संकट और विकारों का नाश होता है.Also Read - Tuesday Fast: मंगलवार के दिन ही क्यों होती है हनुमान जी की पूजा, जानें व्रत के नियम

हनुमान जी की पूजन विधि
मंगलवार के दिन सुबह जल्दी उठकर स्नान करें और हनुमान चालीसा का पाठ करें. कहा जाता है कि मंगलवार के दिन हनुमान चालीसा के साथ ही यदि बजरंग बाण का पाठ भी किया जाए तो वह बेहद ही फायदेमंद होता है. विधि पूर्व हनुमान जी की पूजा करने से उनकी कृपा मिलती है और कहते हैं हनुमान जी प्रसन्न होकर अपने भक्तों के सभी संकटों को दूर करते हैं. Also Read - Hanuman Ji Ki Puja Vidhi: हनुमान जी के ऐसे चित्र या मूर्ति के पूजन से पूरी होती है हर मनोकामना, बन जाते हैं रुके हुए काम...

हनुमान जी पूजा के नियम
कहते हैं कि हनुमान जी की पूजा करने से जीवन में आने वाली सभी परेशानियों से मुक्ति मिलती है और भक्तों के जीवन में मंगल ही मंगल होता है. लेकिन हनुमान जी की पूजा के कुछ नियम है, जिनका पालन करना जरूरी है. Also Read - Tuesday: जानें मंगलवार के दिन किस उपाय को करने से मिलता है क्या लाभ

  • हनुमान की पूजा सुबह और शाम के समय ही की जाती है.
  • हनुमान की पूजा में लाल रंग के फूलों का ही इस्तेमाल किया जाना चाहिए.
  • यदि आप हनुमान जी पूजा करते हैं तो ध्यान रखें कि हमेश लाल धागे की ही बाती बनाकर दिया जलाना चाहिए.
  • कहा जाता है कि हनुमान जी साधना करते समय ब्रह्मचर्य व्रत का पालन किया जाना चाहिए. पूजा के समय कामुक विचार न आने दें.
  • मंगलवार के दिन मांस-मंदिरा का सेवन नहीं करना चाहिए.
  • हनुमान की पूजा में चरणामृत का इस्तेमाल न करें.
  • ध्यान रखें महिलाएं हनुमान की मूर्ति को बिल्कुल स्पर्श न करें.