Mata Vaishno Devi Yatra: माता वैष्णो देवी यात्रा 16 अगस्त से शुरू होगी. सरकार ने इसकी घोषणा की है. इसके साथ ही सरकार ने दिशा-निर्देश भी जारी किए हैं. इसके साथ ही नियम भी जारी कर दिए गए हैं. अगर आप जा रहे हैं तो नियम जानना बेहद ज़रूरी है. कोरोना वायरस के चलते कई तरह के नियम बनाये गए हैं. आरती तक में बैठने की परमीशन नहीं होगी. 10 साल से बच्चे यात्रा नहीं कर पाएंगे. यात्री माता के भवन में रात में ठहर भी नहीं पाएंगे. Also Read - Vaishno Devi Yatra: मां वैष्णो देवी के दर्शन कर सकेंगे पांच हजार श्रद्धालु, जानें क्या कहते हैं नए नियम

– 16 अगस्त से माता वैष्णो देवी यात्रा शुरू हो जाएगी. Also Read - वैष्णों दरबार जाने वाले श्रद्धालुओं को नही मिल रहा टिकट

– सीमित संख्या में घरेलू श्रद्धालुओं को माता के दर्शनों के लिए परमीशन मिलेगी. Also Read - Landslide at Mata Vaishno Devi shrine, 1 killed and 7 injured | वैष्णो देवी भवन मार्ग पर अर्धकुमारी में भूस्खलन, एक महिला की मौत

– रात के समय भवन मार्ग पर यात्रा बंद रहेगी.

– 10 साल से कम आयु के बच्चे फिलहाल यात्रा नहीं कर सकेंगे.

– यात्रा के दौरान मास्क पहनना जरूरी होगा. इसके बिना यात्रा नहीं कर पाएंगे.

– सुबह-शाम माता के भवन में होने वाली दिव्य आरती में श्रद्धालुओं को बैठने की परमीशन नहीं होगी.

– माता के भवन पर श्रद्धालुओं के रात में ठहरने पर फिलहाल पाबंदी रहेगी.

– 30 सितम्बर तक एक दिन में अधिकतम पांच हज़ार यात्री ही दर्शन कर सकेंगे.

– आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करना अनिवार्य होगा.

– मूर्तियों और पवित्र किताबों को छूने कि अनुमति नहीं होगी.