Banke Bihari Mandir: उत्तर प्रदेश (UP) में मथुरा के वृन्दावन शहर में स्थित बांके बिहारी मंदिर की प्रशासनिक अधिकारी ने मंदिर (Temple) परिसर में श्रद्धालुओं के माथे पर जबरन टीका या चंदन लगाए जाने पर रोक लगा दी है. ऐसा करने वालों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी. मंदिर के राजभोग के सेवायत शैलेंद्र नाथ गोस्वामी ने प्रशासनिक अधिकारी सिविल न्यायाधीश (जूनियर डिवीजन) अर्चना सिंह से शिकायत की थी कि कई गोस्वामी जिनकी उस दिन सेवा भी नहीं होती वे मंदिर में बैठ जाते हैं और वहां दर्शन के लिए आने वाले श्रद्धालुओं के माथे पर चंदन या टीका लगाकर उनसे दान-दक्षिणा मांगते हैं.Also Read - UP Elections 2022: अमित शाह ने कहा- माफियाओं पर कार्रवाई होती है तो अखिलेश यादव के पेट में दर्द होता है

शैलेंद्र नाथ गोस्वामी ने कहा कि ऐसा करने से मंदिर की व्यवस्था भंग होती है तथा प्रतिष्ठा को भी आघात पहुंचता है. ऐसे में देश-विदेश से आने वाले श्रद्धालु स्वयं को असहज स्थिति में पाते हैं और मंदिर के प्रति उनके मन में गलत छवि उभरती है. उन्होंने यह भी बताया कि पूर्व मंदिर प्रशासक द्वारा ऐसे मामलों पर रोक लगाने के लिए 16 मार्च 2017 में भी एक आदेश पारित किया था. Also Read - UP Assembly Election 2022: चुनाव से पहले यूपी में दो जगह से 32 लाख की शराब और कैश बरामद

गोस्वामी ने बताया कि मंदिर प्रशासक न्यायाधीश ने शिकायत पर संज्ञान लेते हुए उक्त आदेश का सख्ती से अनुपालन करने के निर्देश दिए हैं. साथ ही मंदिर परिसर में चबूतरे आदि पर अवैध कब्जा करने वाले और वहां बैठने वाले लोगों को भी हटाए जाने को कहा गया है. Also Read - निचली कोर्ट ने भगवान को ही 'तलब' कर लिया, HC ने जताई नाराजगी कहा- भगवान को पेशी पर नहीं बुलाया जा सकता