Mauni Amavasya 2019: मौनी अमावस्या इस बार 4 फरवरी 2019 को है. मौनी अमावस्या के दिन सूर्य और चन्द्रमा गोचरवश मकर राशि में आते हैं इसलिए यह दिन एक संपूर्ण शक्ति से भरा हुआ और पावन अवसर बन जाता है. इस दिन मनु ऋषि का जन्म भी माना जाता है. इसलिए भी इस अमावस्या को मौनी अमावस्या कहा जाता है. मकर राशि, सूर्य और चन्द्रमा का योग इसी दिन होता है अत: इस अमावस्या का महत्व और बढ़ जाता है. इस दिन पवित्र नदियों व तीर्थ स्थलों में स्नान करने से पुण्य फलों की प्राप्ति होती है.

Kumbh Mela 2019: मौनी अमावस्‍या पर 5 करोड़ श्रद्धालु लगाएंगे डुबकी, संगम घाट में होगा ये बदलाव

मौनी अमावस्या के दिन क्या करें
1. मौनी अमावस्या के दिन स्नान करने के बाद सूर्य देव को अर्घ्य देना लाभप्रद होता है. ऐसा करने से घर में सुख शांति आती है और पूर्वजों को मोक्ष मिलता है.
2. मौनी अमावस्या के दिन किसी धार्मिक स्थल की यात्रा करने, पवित्र नदी में स्नान करने या पवित्र स्थल पर जाने से मंगल ही मंगल होता है.
3. मौनी अमावस्या के दिन मौन व्रत रखने की मान्यता है. ऐसा करने का प्रतिफल काफी अनुकूल होता है.
4. संपन्न लोगों द्वारा इस दिन गरीब व भूखे व्यक्ति को भरपेट भोजन खिलाना चाहिए. लगभग 5 कन्याओं को घर पर भोजन खिलाने और उन्हें दान करना भी अच्छा माना जाता है.
5. सूर्योदय के वक्त पितरों को जल या दूध से तर्पण दें. यदि दूध में काले तिल और एक चम्मच शुद्ध देसी का घी डालेंगे तो बहुत अच्छा होगा.

Kumbh 2019: कुंभ में आने वाले नागा साधुओं के बारे में वो बातें, जिससे आप भी होंगे अंजान

मौनी अमावस्या व्रत का महत्व
इस दिन व्यक्ति विशेष को मौन व्रत रखने का भी विधान रहा है. इस व्रत का अर्थ है कि व्यक्ति को अपनी इन्द्रियों को अपने वश में रखना चाहिए. धीरे-धीरे अपनी वाणी को संयत करके अपने वश में करना ही मौन व्रत है. इस दिन मौन व्रत धारण करके ही स्नान करना चाहिए. वाणी को नियंत्रित करने के लिए यह शुभ दिन होता है. मौनी अमावस्या को स्नान आदि करने के बाद मौन व्रत रखकर एकांत स्थल पर जाप आदि करना चाहिए. इससे चित्त की शुद्धि होती है. आत्मा का परमात्मा से मिलन होता है. मौनी अमावस्या के दिन व्यक्ति स्नान तथा जप आदि के बाद हवन, दान आदि कर सकता है. ऎसा करने से पापों का नाश होता है. इस दिन गंगा स्नान करने से अश्वमेघ यज्ञ करने के समान फल मिलता समान है.

धर्म से जुड़ी अन्य खबरों को पढ़ने के लिए धर्म पर क्लिक करें.