मथुरा: नए साल पर हर कोई अपने ईष्‍ट के दर्शन कर दिन की शुरुआत करना चाहता है, ऐसे में अगर आप उत्तर प्रदेश के मथुरा जनपद में जाकर कान्‍हा के दर्शन करना चाहते हैं तो यह खबर आपके काम की है. दरअसल नये साल की शुरुआत में श्रद्धालुओं के सैलाब को देखते हुए मथुरा जिला प्रशासन ने विशेष तौर पर वृन्दावन की यातायात व्यवस्था सुचारू बनाए रखने के लिए शनिवार से चारपहिया एवं उससे बड़े वाहनों के प्रवेश पर पूरी तरह से रोक लगा दी है जो बुधवार की सुबह तक लागू रहेगी.

Happy New Year 2019: नए साल पर करें ये काम, आएंगी खुशियां, बन जाएंगे बिगड़े काम

मथुरा के एसएसपी बबलू कुमार ने बताया कि चूंकि इन दिनों में सप्ताहांत, वर्ष का अंत एवं वर्षांत नववर्ष आदि ऐेसे संयोग बन रहे हैं जिन पर लोग देशाटन, तीर्थाटन आदि के इरादे से वृन्दावन एवं मथुरा के अन्य तीर्थस्थलों पर भ्रमण के लिए बहुत बड़ी तादाद में आते हैं. इसलिए ऐसे में उनकी सुरक्षा एवं संरक्षा के इरादे से यातायात को सुचारू बनाए रखना भी पुलिस की प्राथमिकताओं में आता है. उन्होंने बताया कि इसलिए खासतौर पर वृन्दावन में कार एवं अन्य सभी बड़े वाहनों के प्रवेश पर चार दिन तक पूरी तरह से रोक लगा दी गई है. जो शनिवार की सुबह से मंगलवार की सुबह तक लागू रहेगी. इस बीच शहर में प्रवेश की अनावश्यक चेष्टा करने वालों को रोकने के लिए 21 स्थानों पर बैरियर लगाकर भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है.

Hanuman Ashtami 2018: आज है हनुमान अष्टमी, ऐसे करें पूजा, कट जाएंगे सारे संकट

यहां से रोके जाएंगे दिल्ली-आगरा हाइवे के वाहन
एसएसपी ने बताया कि दिल्ली-आगरा राष्ट्रीय राजमार्ग की ओर से आने वाले वाहनों को छटीकरा मार्ग पर स्थित रुक्मिणी विहार पार्किंग पर रोका जाएगा. वहीं जैंत वाले नये रोड से आने वाले वाहनों को छह शिखर मंदिर के समीप और गांव सुनरख मोड़ पर ही रोक दिया जाएगा. उन्होंने बताया कि इसके अलावा, मथुरा की ओर से जाने वाले बड़े और चार पहिया वाहन पागल बाबा के समीप संयुक्त चिकित्सालय के सामने पार्किंग में पार्क कराए जाएंगे, जबकि यमुना एक्सप्रेस-वे की ओर से आने वाले बड़े वाहन नवीन मंडी समिति के निकट बनी पार्किंग में खड़े कराए जाएंगे. उन्होंने बताया कि श्रद्धालुओं की सुविधा हेतु सभी पार्किंग स्थलों से ई-रिक्शा एवं ऑटो रिक्शा सवारियों को ठा. बांकेबिहारी मंदिर सहित अन्य मंदिरों तक पहुंचाएंगे.

धर्म से जुड़ी अन्य खबरों को पढ़ने के लिए धर्म पर क्लिक करें.