Raksha Bandhan 2019 का त्‍योहार यूं तो भाई-बहन का पर्व है पर इस दिन पूजा-पाठ करने का खास विधान भी है. कहा गया है कि इस दिन प्रदोष काल में पूजा करने से कई तरह के संकट दूर होते हैं. जीवन में खुशहाली आती है.

Raksha Bandhan 2019: राखी बांधे तो जरूर पढ़ें ये मंत्र, जानें रक्षासूत्र बांधने की सही विधि…

प्रदोष काल में क्‍या करें
– इस समय शिव-पार्वती की पूजा करें. मां पार्वती को सिन्दूर अर्पित करें. इससे विवाह शीघ्र होता है.

– शिव-पार्वती का पूजन करें. दोनों को संयुक्त रूप से रुद्राक्ष की माला अर्पित करें. इससे वैवाहिक जीवन अच्‍छा होता है.

– भगवान शिव के सामने घी का दीपक जलाएं. गुलाब के फूलों की माला अर्पित करें. सफेद मिठाई अर्पित करें. “ॐ दारिद्रय दुःख दहनाय नमः शिवाय” का जप करें. इससे धन का अभाव नहीं होगा.

– शिव मंदिर जाएं. शिव जी को पीले रंग का रेशमी धागा अर्पित करें. इससे स्‍वास्‍थ्‍य का आशीर्वाद मिलता है.

Raksha Bandhan 2019: इस बार सबसे लंबा है राखी बांधने का मुहूर्त, पर ये दो घंटे सबसे शुभ…

प्रदोष काल
15 अगस्‍त को शाम 5.35 बजे से 8.08 बजे तक.

Raksha Bandhan 2019 Date
राखी का त्‍योहार इस बार 15 अगस्‍त, गुरुवार को मनाया जाएगा. श्रावण मास में लंबे समय बाद 15 अगस्त के दिन चंद्र प्रधान श्रवण नक्षत्र में स्वतंत्रता दिवस और रक्षाबंधन का संयोग उपस्थित है.