अयोध्या में आज से धार्मिक स्थलों के कपाट खोल दिए गए हैं. राम जन्मभूमि, हनुमानगढ़ी, कनक भवन, नागेश्वर नाथ मंदिर में मंगला आरती के बाद भक्तों के लिए मंदिरों के कपाट सरकार के दिशानिर्देशों को पालन करते हुए खोल दिए गए हैं. Also Read - यूपी के विश्वविद्यालयों में जल्द शुरू की जाएगी ऑनलाइन क्लास, जानें एडमिशन और परीक्षाओं की पूरी जानकारी

हालांकि आज मंदिरों में अपने आराध्य के दर्शन करने के लिए भक्तों की संख्या बेहद कम है और अब कोरोना संक्रमण काल के पहले जैसी स्थिति भी मंदिरों में नहीं देखी जा रही है. Also Read - पर्यटकों के लिए खुशखबरी, इस दिन से देख सकेंगे जम्मू-कश्मीर की हसीन वादियां, दिशानिर्देश जारी

मंदिरों में कोरोना संक्रमण से बचने के लिए कई तरीके के उपाय किए गए हैं. हनुमानगढ़ी में सरकारी निर्देशों के अनुसार गोला बनाकर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराया जा रहा है. प्रवेश द्वार पर सैनिटाइजर की व्यवस्था की गई है. बिना मास्क के कोई भी श्रद्धालु मंदिर में प्रवेश नहीं कर सकता है. Also Read - डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने LNJP अस्पताल का किया दौरा, कोरोना उपचार का लिया जायजा

वहीं मंदिरों में रामादल ट्रस्ट द्वारा श्रद्धालुओं के लिए मास्क का भी इंतजाम किया गया है. जिला अधिकारी अनुज झा धार्मिक स्थलों में जाकर व्यवस्थाओं का जायजा ले रहे हैं. उनका कहना है कि कोरोना संक्रमण से बचने के उपाय के साथ सभी धार्मिक स्थलों को खोल दिया गया है. इस बाबत सभी धार्मिक गुरुओं से वार्ता भी की गई है.

धार्मिक स्थलों पर सैनिटाइजर की व्यवस्था की गई है और बिना मास्क भक्त मंदिर में प्रवेश नही करेंगे. हनुमानगढ़ी के पुजारी राजू दास ने कहा कि जो भक्त बिना मास्क मंदिर परिसर में पहुच रहे है उनको मास्क उपलब्ध कराया जा रहा है.

थोड़ी-थोड़ी देर पर मंदिर परिसर की सफाई भी करवाई जा रही है. हर एक घंटे में मंदिर को सेनेटाइज भी किया जाता है. मंदिर में भक्त को महावीरी नहीं लगाई जा रही है. प्रसाद भी नहीं दिया जा रहा है. भक्त चौखट को छू नहीं सकता है सिर्फ भगवान के सामने प्रणाम ही कर सकता है. सरकार के निर्देशों का पालन किया जा रहा है.

हालांकि आज प्रसाद नहीं चढ़ा है. लेकिन एक ऐसी योजना बनाई जा रही है कि भक्त जो ताजा प्रसाद लेकर आएगा वह उस प्रसाद को भगवान के पास रखे पात्र में डालकर चढ़ा सकता है. भक्त और भगवान के बीच प्रसाद को लेकर अब दूसरा कोई नहीं होगा. हालांकि उम्मीद है कि मंगलवार के दिन भक्तों की भीड़ बढ़ेगी. आज कुछ ही लोग अयोध्या पहुचे.