Ram Navami 2020: राम नवमी का हिंदू धर्म में काफी महत्व है. इस दिन श्रीराम का पूजन किया जाता है. ये दिन भगवान श्रीराम के जन्म का माना गया है. Also Read - Ram Navami 2020 Wishes In Hindi: राम नवमी पर हिंदी में भेजें ये शुभकामना संदेश

राम नवमी पर भगवान राम की कृपा पाने के लिए उनके पूजन का विधान है. अगर आप भी अपने जीवन के हर कष्ट से मुक्ति पाना चाहते हैं तो आपको भगवान राम की ये स्तुति करनी चाहिए. Also Read - Happy Ram Navami 2020 Wishes: राम नवमी पर भेजें ये SMS, WhatsApp Messages

श्री राम चंद्र कृपालु भजमन हरण भाव भय दारुणम्।
नवकंज लोचन कंज मुखकर, कंज पद कन्जारुणम्।।
कंदर्प अगणित अमित छवी नव नील नीरज सुन्दरम्।
पट्पीत मानहु तडित रूचि शुचि नौमी जनक सुतावरम्।।
भजु दीन बंधु दिनेश दानव दैत्य वंश निकंदनम्।
रघुनंद आनंद कंद कौशल चंद दशरथ नन्दनम्।।
सिर मुकुट कुण्डल तिलक चारु उदारू अंग विभूषणं।
आजानु भुज शर चाप धर संग्राम जित खर-धूषणं।।
इति वदति तुलसीदास शंकर शेष मुनि मन रंजनम्।
मम ह्रदय कुंज निवास कुरु कामादी खल दल गंजनम्।।
छंद :
मनु जाहिं राचेऊ मिलिहि सो बरु सहज सुंदर सावरों।
करुना निधान सुजान सिलू सनेहू जानत रावरो।।
एही भांती गौरी असीस सुनी सिय सहित हिय हरषी अली।
तुलसी भवानी पूजि पूनी पूनी मुदित मन मंदिर चली।।
।।सोरठा।।
जानि गौरी अनुकूल सिय हिय हरषु न जाइ कहि।
मंजुल मंगल मूल वाम अंग फरकन लगे।। Also Read - Chaitra Navratri 2020 8th Day: चैत्र नवरात्रि की अष्टमी आज, लॉकडाउन में ऐसे करें कन्या पूजन, शुभ मुहूर्त

बता दें कि इस बार राम नवमी 2 अप्रैल, गुरुवार को है. ऐसी मान्यता है कि राम नवमी के दिन भगवान राम का जन्म हुआ था. इसलिए इस दिन लोग श्रीराम के जन्म की खुशियां मनाते हैं. इस दिन को साल के बेहद शुभ दिवसों की श्रेणी में रखा गया है. इस दिन मां दुर्गा के 9वें स्वरूप सिद्धिदात्री की उपासना की जाती है.