Rama Ekadashi 2018: आज रमा एकादशी है. यह हर साल अक्टूबर या नवंबर के महीने में आता है. हिन्दू पंचांग के अनुसार रमा एकादशी व्रत हर साल कार्तिक मास के कृष्णपक्षा के 11वें दिन यानी कि एकादशी के दिन आता है. ऐसी मान्यता है कि इस दिन व्रत करने से सभी पापों का नाश हो जाता है. यह सभी एकादशी व्रतों में सबसे महत्वपूर्ण है. आप भी जानिये इसका व्रत विधि और पूजन विधि. साथ में यह भी जानिये कि द्वादशी के दिन पारण कब करना है. Also Read - Rama Ekadashi 2019: रमा एकादशी तिथि, महत्‍व, व्रत कथा, पूजन विधि...

Also Read - Rama Ekadashi Vrat Katha: रमा एकादशी के दिन इस कथा को पढ़ने या सुनने से नष्ट हो जाते हैं सभी पास, पढ़ें

Rama Ekadashi Puja Vidhi : रमा एकादशी पूजा विधि Also Read - Rama Ekadashi 2018: जानिये तारीख, महत्व, पूजा विधि, व्रत कथा, आरती और शुभ मुहूर्त

1. सुबह उठकर स्नान कर स्वच्छ वस्त्र धारण करें और भगवान कृष्ण या केशव का पूजन करें.

2. पूजा करने के बाद मस्तक पर सफेद चन्दन लगाएं. इससे मस्तिष्क शांत रहेगा.

3. भगवान कृष्ण को पंचामृत, फूल और मौसमी फल अर्पित करें.

Dhanteras 2018: जान‍िये, धनतेरस के द‍िन क‍िस मुहूर्त में खरीदारी करने से मां लक्ष्‍मी होंगी प्रसन्‍न, करेंगी धन वर्षा

4. श्री कृष्ण के मन्त्रों का जाप करें.

5. पूजा के दौरान गीता का पाठ भी अवश्य करें.

6. रात को चंद्रोदय के बाद दीपदान करें.

7. एकादशी के दिन रात्रि में सोने का विधान नहीं है. कहा जाता है कि एकादशी का पूर्ण फल प्राप्त करने के लिए रात्रि में जागरण करें.

8. एकादशी के अगले दिन यानी द्वादशी के दिन दान करें. खासतौर से जूते, छाते और वस्त्रों का दान श्रेष्ठ माना जाता है.

9. द्वादशी के दिन दान करने के बाद व्रत का पारण करें.

Dhanteras 2018: जानिये कब है धनतेरस, क्या है पूजन का सबसे शुभ मुहूर्त

Date and time of Rama Ekadashi: रमा एकादशी तिथि और मुहूर्त

रमा एकादशी तिथि प्रारम्भ: 3 नवंबर को को 05:10 बजे

रमा एकादशी तिथि समाप्त: 4 नवंबर को 03:13 बजे

रमा एकादशी पारण समय : 4 नवम्बर को सुबह 08:47 से 08:49 बजे तक

ध्यान रहे कि वैष्णव रमा एकादशी 4 नवम्बर को होगी इस बार, जिसका पारण 5 नवंबर को होगा. पारण का समय सुबह 06:40 से 08:50 तक का होगा.

धर्म से जुड़ी अन्य खबरों को पढ़ने के लिए धर्म पर क्लिक करें.