Ramlila 2020: कोरोना के समय में इस साल रामलीला होगा ही या नहीं, लोग इसे लेकर असमंजस में हैं. हर साल रामलीला के दौरान लाखों लोग इस महालीला को देखते हैं और हिंदु धर्म में इसका विशेष महत्व है. पर इस साल सार्वजनिक आयोजनों पर रोक होने के कारण रामलीला की अनुमति अभी तक नहीं मिली है. Also Read - 'सीता' डिफेंस सर्विस की तैयारी में, 'राम' करते बैंक में काम, 'शूर्पणखा' प्राइवेट कंपनी में...

जानकार कह रहे हैं कि राज्य सरकारें सार्वजनिक आयोजनों की अनुमति देकर कोई खतरा नहीं उठाना चाहतीं. यही वजह है कि देश की बड़ी रामलीला कमेटियों को अब तक सरकारी अनुमति का इंतजार है. Also Read - Shardiya Navratri/Ramlila 2020: इस राज्य में नवरात्र में मंदिर खुलेंगे, रामलीला होगी और रावण दहन भी...

कहा जा रहा है कि इस बार कुछ प्रमुख स्थानों पर प्रतीकात्मक और वर्चुअल रामलीलाएं देखने को मिल सकती हैं. दिल्ली में कई रामलीला समितियां कलाकारों के सहयोग से छोटी लीलाओं के मंचन की तैयारी कर रही हैं. Also Read - Ramlila 2020 Ayodhya: रजा मुराद, मनोज तिवारी, रवि किशन जैसे सितारों से सजी होगी रामलीला, जनकपुर से आएंगे भगवान राम के वस्त्र...

ऐसी भी खबरें हैं कि कई स्थानों पर सोशल डिस्टेंसिंग के साथ केवल पुतला दहन का आयोजन किया जाएगा. इस दौरान रावण के साथ साथ कोरोना का पुतला जलाने की भी तैयारी है. हालांकि राम लीलाओं कमेटियों को अभी इस विषय पर सरकार के फैसले का इंतजार है.

दिल्ली की लव कुश रामलीला के सचिव अर्जुन कुमार ने कहा,रामलीला तो आयोजित की जानी है. अभी हमें दिल्ली पुलिस से एनओसी नहीं मिली है. जमीन की मंजूरी भी अभी तक नहीं मिल सकी है.

वहीं बद्रीनाथ रामलीला कमेटी के आयोजक सुनील सिंह रौतेला के मुताबिक इस बार रामलीला का प्रसारण ऑनलाइन किए जाने की व्यवस्था पर विचार किया जा रहा है.
(एजेंसी से इनपुट)