Rang Panchmi 2020: होली के आठ दिन के उत्‍सव में अंतिम दिन होता है रंग पंचमी का. मथुरा-वृंदावन में इस दिन पर ही होली उत्‍सव समाप्‍त होता है. इस दिन का हिंदू धर्म में खास महत्‍व बताया गया है. Also Read - Rang Panchmi 2020 Upaay: आज रंग पंचमी, इन आसान उपायों से दूर होगी करियर, धन से संबंधित हर परेशानी

Rang Panchmi

चैत्र मास की कृष्ण पंचमी को रंग पंचमी पर्व होता है. रंग पंचमी कोंकण क्षेत्र का खास त्यौहार है. महाराष्ट्र में तो होली को ही रंग पंचमी कहा जाता है. कहा जाता है कि इस दिन जिन रंगों का इस्तेमाल किया जाता है, जिन्हें एक-दूसरे पर लगाया जाता है, हवा में उड़ाया जाता है, उससे देवता आकर्षित होते हैं.

महाराष्‍ट्र में ये दिन मछुआरों के लिये बहुत खास होता है. इस दिन सब नाचने-गाने में मस्त होते हैं. इस दिन पूरनपोली बनाई जाती है.

मध्य प्रदेश के इंदौर में रंगपंचमी पर रंगारंग जुलूस निकाले जाते हैं. रंग पंचमी के दिन लोग एक-दूसरे पर रंग डालते हैं. गाजे-बाजे के साथ जुलूस निकालते हैं.

इसके अलावा देश के अन्य हिस्सों में भी इस दिन धार्मिक सांस्कृतिक उत्सव आयोजित किये जाते हैं.

Rang Panchmi Date

रंग पंचमी इस साल 13 मार्च, शुक्रवार को है.

हवा में उड़ते गुलाल

इस दिन आसमान में उड़ाए जाने वाले रंग से सभी देवी-देवता प्रसन्न होते हैं. क्योंकि हरेक कण में सकारात्मक तरंगे पूरे माहौल में ऊर्जा उत्पन्न करते हैं. यह भी मान्यता है कि आसमान से उड़ते रंग के जरिए भगवान भक्तों को आशीर्वाद देते हैं.