नई दिल्ली: पौष मास कृष्ण पक्ष की एकादशी तिथि को सफला एकादशी (Saphala Ekadashi 2021) मनाई जाती है. सफला एकादशी के दिन भगवान नारायण की पूजा अर्चना की जाती है. ऐसे में अगर आप भी सफला एकादशी का व्रत रखते हैं तो आपको कुछ बातों को जानना काफी जरूरी है. आज हम आपको कुछ ऐसी बातों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें आपको सफला एकादशी के दिन नहीं करनी चाहिए. आइए जानते हैं इनके बारे में-Also Read - Saphala Ekadashi 2021: जब देवी लक्ष्मी की वजह से रो पड़े थे भगवान विष्णु, जानें पूरी कहानी

-सफला एकादशी के दिन चावल का सेवन नहीं करना चाहिए. माना जाता है कि चावल का सेवन करने से मनुष्य रेंगने वाले जीव की योनि में जन्म लेता है. Also Read - Saphala Ekadashi 2021: सफला एकादशी के दिन करें ये काम, मिलेगा भगवान विष्णु का खास आशीर्वाद

– इस एकादशी के दिन खाना एकदम साधारण होना चाहिए. और लहसुन और प्याज का सेवन करने से बचना चाहिए. Also Read - Saphala Ekadashi 2021 Date: इस दिन मनाई जाएगी सफला एकादशी, यहां जानें शुभ मुहूर्त, कथा और महत्व

– एकादशी के दिन पति-पत्नी को ब्रह्राचार्य का पालन करना चाहिए और शारीरिक संबंध बनाने से बचना चाहिए.

– एकादशी के दिन किसी को भी कठोर वचन नहीं बोलने चाहिए. और ना ही किसी के साथ लड़ाई -झगड़ा करना चाहिए.

– इस दिन सुबह जल्दी उठ जाना चाहिए और शाम के वक्त सोना भी नहीं चाहिए. इसके अलावा इस दिन न तो क्रोध करना चाहिए और न ही झूठ बोलना चाहिए.

सफला एकादशी के दिन करें ये काम

– एकादशी के दिन दान जरूर करना चाहिए.

– इस दिन गंगा स्नान करना काफी शुभ माना जाता है.

– प्रत्येक एकादशी का व्रत रखने पर धन, मान-सम्मान, अच्छी सेहत, ज्ञान, संतान सुख, पारिवारिक सुख,और मनोवांछित फल मिलते हैं.