Sawan Month 2021:  सावन का महीना शुरू हो चुका है. 25 जुलाई 2021 यानी आज से शुरू हुआ सावन का यह महीना 22 अगल्त 2021 को समाप्त होगा. हिन्दू पंचांग का यह पांचवां महीना है, जिसका धार्मिक दृष्टि से बड़ा महत्व है. शिव भक्तों के लिए सावन माह सभी महीनों में सबसे पवित्र माह होता है. इसलिए इस माह को भगवान शिव की उपासना के लिए काफी अच्छा माना जाता है. राशिनुसार (rashi anusar kare sawan ki puja) सावन के महीने में शिव भगवान की पूजा करने से आप अपनी कुंडली में मौजूद ग्रहों के नकारात्मक प्रभावों को कम कर सकते हैं.Also Read - Mangal Gochar 2022: बदलने वाली है इन 5 राशियों की किस्मत, आने वाले संकट के लिए अभी से हो जाएं सावधान

मेष- सावन के महीने में मेष राशि के जातक भगवान भोलेनाथ को अर्पित करें. यह काफी शुभ माना जाता है. पूजा के समय नागेश्वराय नम: मंत्र का जाप भी किया जा सकता है. Also Read - Navratri 2022: नवरात्रि में चमकेगा इन 4 राशियों का भाग्य, मां दुर्गा करेंगी धन-दौलत की बरसात

वृषभ- सावन के महीने में वृषभ राशि के जातक भगवान शिव की पूजा चमेली के फूलों से कर सकते हैं. इसके साथ ही रुद्राष्टक का पाठ भी करें. Also Read - सूर्य राशि परिवर्तन 2022: अगले महीने बदल जाएगी इन 6 राशियों की किस्मत, खुलेंगे तरक्की के नए रास्ते

मिथुन- सावन के महीने में मिथुन राशि के जातक भगवान शिव को धतूरा, भांग अर्पित करें. इसके साथ ही ॐ नम: शिवाय का जाप करें.

कर्क- सावन के महीने में कर्क राशि के जातक शिवलिंग का अभिषेक भांग मिश्रित दूध से करें. इसके साथ ही रुद्राष्टक का पाठ भी करें.

सिंह- सावन के महीने में सिंह राशि के जातक भगवान शिव को लाल रंग के फूल चढ़ाएं और शिव चालीसा का पाठ करें.

कन्या- सावन के महीने में कन्या राशि के जातक भगवान शिवजी की पूजा में बेलपत्र, धतूरा, भांग आदि सामग्री शिवलिंग पर अर्पित करें.

तुला- सावन के महीने में तुला राशि के जातक मिश्री युक्त दूध से शिवलिंग का अभिषेक करें. साथ हीशिव के सहस्रनामों का जाप करें.

वृश्चिक- सावन के महीने में वृश्चिक राशि के जातक भगवान शिव की गुलाब के फूलों व बिल्वपत्र की जड़ से पूजा करें. साथ ही रोजाना प्रतिदिन रूद्राष्टक का पाठ करें.

धनु- सावन के महीने में धनु राशि के जातक प्रात:काल उठकर भगवान शिव की पूजा पीले रंग के फूलों से करें. प्रसाद के रूप में भगवान शिव को खीर का भोग लगाएं.

मकर- सावन के महीने में मकर राशि के जातक धतूरा, भांग, अष्टगंध आदि से भगवान शिव की पूजा करें. इसके साथ ही पार्वतीनाथाय नम: का जाप भी करें.

कुंभ- सावन के महीने में मकर राशि के जातक गन्ने के रस से शिवलिंग का अभिषेक करें. इसके साथ ही शिवाष्टक का पाठ करें.

मीन- सावन के महीने में मीन राशि के जातक मीन जातकों को पंचामृत, दही, दूध एवं पीले रंग के फूल शिवलिंग पर अर्पित करने चाहिए. साथ ही चंदन की माला से पंचाक्षरी मंत्र नम: शिवाय का जाप 108 बार करना चाहिए.