आज यानी 5 जनवरी, शनिवार को पौष मास की अमावस्या है. शनिवार के दिन अमावस्‍या पड़ने से इसे शनिचरी अमावस्‍या भी कहा जाता है.

Makar Sankranti 2019: 14 या 15 जनवरी, जानें किस दिन मनाई जाएगी मकर संक्रांति…

नए साल यानी 2019 की यह पहली शनि अमावस्या है. इस दिन शनिदेव की पूजा का विशेष महत्‍व है. कहा जाता है कि इस दिन शनिदेव के नाम या मंत्रों का जाप करने और दान देने से सभी काम पूरे होते हैं.

shani

शनिदेव के इन नामों का जप करें
यम
बभ्रु
कोणस्थ
पिंगल
शनैश्चर
मंद
रौद्रान्तक
सौरि
कृष्ण
पिप्पलाद

इस दिन व्रत रखने की भी परंपरा है. पूरे दिन व्रत रखकर शाम के समय शनि पूजन करना चाहिए. ऊं शं शनैश्चराय नमः का जाप करें. फिर काली वस्‍तुओं का दान करें.

Ekadashi 2019: देखें एकादशी कैलेंडर, किस महीने किस तारीख को रखा जाएगा कौन सा व्रत…

नौकरी के लिए उपाय:
शाम के समय पीपल के पेड़ के नीचे सरसों के तेल का दीपक जलाएं. इसके बाद “ॐ शं शनैश्चराय नमः” का जाप करें. एक काला धागा पीपल वृक्ष की डाल में बांध दें. इसमें तीन गांठ लगाएं. ऐसा करने से नौकरी संबंधित परेशानी दूर हो जाएगी.

धर्म की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.