Shani Rashi Parivartan 2022: ज्योतिष अनुसार सभी ग्रहों में शनि (Shani) सबसे धीमी गति से चलने वाले ग्रह माने जाते हैं. इन्हें अपना राशि चक्र पूरा करने में लगभग 30 साल का समय लग जाता है. ऐसे में साल 2022 में शनि का राशि परिवर्तन होने जा रहा है. शनि कुंभ राशि में प्रवेश करेंगे. शनि के राशि परिवर्तन से कुछ राशियों पर इसका असर दे खने को मिलेगा. इस दौरान कुछ राशियों को शनि ढैय्या (Shani Dhaiya) और साढ़े साती (Shani Sade Sati) का सामना करना पड़ सकता है. ऐसे में आइए जानते हैं किन राशियों को करना पड़ेगा शनि साढ़े साती और शनि ढैय्या का सामना-

साल 2022 में शनि की ढैय्या (Shani Dhaiya 2022)

आने वाले नए साल 2022 में 1 जनवरी से 29 अप्रैल तक मिथुन राशि और तुला राशि बालों पर शनि की ढैय्या रहेगी. इसके बाद 12 जुलाई तक कर्क और वृश्चिक वालों पर ढैय्या रहेगी. मकर राशि में शनि के गोचर करने पर मिथुन और तुला राशि के लोग शनि ढैय्या की चपेट में आएंगे. इन्हें 17 जनवरी 2023 तक शनि की दशा की सामना करना पड़ेगा.

साल 2022 में शनि की साढ़े साती (Shani Sade Sati 2022)

1 जनवरी 2022 से 29 अप्रैल तक धनु, मकर और कुंभ वालों पर शनि साढ़े साती रहेगी. 29 अप्रैल को शनि के कुंभ राशि में प्रवेश करते ही मीन राशि वालों पर शनि साढ़े साती शुरू हो जाएगी जबकि धनु वालों को इससे मुक्ति मिल जाएगी. शनि 12 जुलाई तक कुंभ राशि में रहने के बाद फिर से मकर राशि में प्रवेश कर जायेंगे. जिससे धनु राशि वाले फिर से शनि की चपेट में आ जायेंगे और मीन राशि वाले 17 जनवरी 2023 तक शनि साढ़े साती से मुक्त रहेंगे.