shardiya navratri 2018: 10 अक्‍टूबर से नवरात्रि शुरू हो रही है. 10 अक्‍टूबर से शुरू होकर शारदीय नवरात्र‍ि 19 अक्‍टूबर तक चलेगी. 19 अक्‍टूबर को दुर्गा विसर्जन और विजयदशमी का त्‍योहार होगा.

नौ दिन मां के अलग-अलग रूपों का पूजन होगा और लोग उपासना करेंगे. इन नौ दिनों के दौरान मां दुर्गा की पूजा का विशेष लाभ मिलता है. मां अपने भक्‍तों की सभी मनोकामनाएं पूर्ण करती हैं. अगर आप पहली बार नवरात्र‍ि पूजन करने जा रहे हैं या पूजन सामग्री व तैयारियों को लेकर जानकारी नहीं है तो हम यहां बता रहे हैं कि मां के पूजन के लिए आपको नवरात्र‍ि के पहले दिन किन चीजों की जरूरत होगी, यहां देखें उसकी पूरी लिस्‍ट.

Navratri 2018 date and time: नवरात्रि तारीख, समय और महत्व, किस दिन होगी कौन सी देवी स्वरूप की पूजा, जानिये

मां दुर्गा की पूजा में लगने वाली सामग्री इस प्रकार है-

1. यदि घर में मां तस्‍वीर नहीं है तो मां की फोटो या मूर्ति खरीद लें. इसके बाद जिस चौकी पर मां की मूर्ति या फोटो स्‍थापित करनी है यदि वह भी घर में नहीं है तो उसे भी खरीद लें.

2. इस चौकी पर बिछाने के लिए लाल या पीला कपड़ा ले लें. ध्‍यान रहे कि मां को काले या सफेद रंग के कपड़े पर भूल कर भी ना रखें.

3. चढ़ाने के लिए लाल चुनरी. आप मां को चढ़ाने के लिए साड़ी भी खरीद सकते हैं.

4. इसके साथ ही नौ दिन पाठ करने के लिए मां दुर्गा की किताब दुर्गासप्‍तशती किताब खरीदें.

5. नवरात्र‍ि के पहले दिन कलश स्‍थापना होती है और इसी के साथ पूजन शुरू होता है. इसलिए कलश स्‍थापना के लिए कलश खरीदें. आप पीतल, मिट्टी या सोने का कलश खरीद सकते हैं. कलश स्‍थापना में काम आने वाले आम के पत्‍ते का भी इंतजाम कर लें. यदि आसपास आम का वृक्ष है तो उससे तोड़ लें या बाजार में भी आसानी से नवरात्र‍ि के दिनों में मिल जाता है.

6. ताजा और धुले हुए आम के पत्‍तों के साथ फूल और माला भी खरीदें. नारियल, जिसे छिला ना गया हो. इसे जटा वाला नारियल भी कहते हैं. पान, सुपारी, इलायची, लौंग, कपूर, रोली, सिंदूर, मौली (कलावा), चावल का इंतजाम आज ही कर लें.

नवरात्र‍ि के दौरान यदि आप अखंड ज्योति जलाने वाले हैं तो उसके लिए भी सामग्री इस प्रकार हैं:

पीतल या मिट्टी का साफ दीपक, घी, लंबी बत्ती के लिए रुई या बत्ती, दीपक पर लगाने के लिए रोली या सिंदूर, घी में डालने और दीपक के नीचे रखने के लिए चावल

यदि आप नवरात्र‍ि के पहले दिन या नौ दिन हवन करना चाहते हैं तो यह सामग्री खरीद लें:

हवन कुंड, आम की लकड़ी, हवन कुंड पर लगाने के लिए रोली या सिंदूर, काले तिल, चावल, जौ (जवा), धूप, चीनी, पांच मेवा, घी, लोबान, गुगल, लौंग का जौड़ा, कमल गट्टा, सुपारी, कपूर, हवन में चढ़ाने के लिए प्रसाद की मिठाई और नवमी को हलवा-पूरी और आचमन के लिए शुद्ध जल.

धर्म से जुड़ी अन्य खबरों को पढ़ने के लिए धर्म पर क्लिक करें.