Shardiya Navratri 2019: शारदीय नवरात्रि में इस बार 9 विशेष योग बन रहे हैं. हर दिन शुभ योग है. Also Read - Navratri 2020: शीघ्र विवाह और धन प्राप्ति के लिए माता दुर्गा की पान के पत्तों से करें पूजा, मनोकामनाएं होंगी पूरी

इन दिनों में मां की विधि-विधान से पूजा का विधान है. Also Read - Mistakes During Navratri Fast: नवरात्रि के व्रत में अपनी डाइट में ना करें ये गलतियां, स्वास्थ पर पड़ेगा गलत असर

शुभ योग
30 सितंबर को अमृत सिद्धि योग, 1 अक्टूबर को रवि योग, 2 तारीख को अमृत, सिद्धि, 3 को सर्वार्थ सिद्धि, 4 को रवि योग, 5 को रवि योग, 6 को सर्वसिद्धि योग रहेगा. Also Read - Shardiya Navratri 2020: नवरात्रि पर इस तरीके से करें मां की पूजा, घर में हमेशा रहेगा लक्ष्मी का वास

Shardiya Navratri 2019: हाथी पर मां दुर्गा का आगमन, घोड़े पर होगी विदाई, 10 दिन तक चलेगा महापर्व…

किस दिन किस देवी की पूजा
पहले दिन शैलपुत्री, दूसरे दिन ब्रह्मचारिणी, तीसरे दिन चंद्रघंटा, चौथे दिन कुष्मांडा, पांचवें दिन स्कंदमाता, छठे दिन कात्यानी, सातवें दिन कालरात्रि, आठवें दिन महागौरी, नवें दिन सिद्धिदात्री की पूजा की जाती है.

दशहरे पर रवियोग
7 अक्टूबर को महानवमी दोपहर 12.38 तक रहेगी. उसके बाद विजया दशमी (दशहरा) लग जाएगी. विजयादशमी रहेगी 8 अक्टूबर को दोपहर 2.51 तक. विजया दशमी के दिन रवि योग रहेगा.

नवरात्रि
नवरात्रि के नौ दिनों के दौरान मां के नौ रूपों की पूजा की जाती है. ऐसी मान्यता है कि मां दुर्गा इस दौरान अपने भक्तों की पुकार जरूर सुनती हैं और उनकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण करती हैं.

Shardiya Navratri 2019: शारदीय नवरात्रि तिथियां, महत्‍व, किस दिन किस देवी की पूजा…

नवरात्रि के नौ दिन के दौरान मां के नौ स्वरूपों शैलपुत्री, ब्रह्मचारिणी, चंद्रघंटा, कुष्मांडा, स्कंदमाता, कात्यायनी, कालरात्रि, महागौरी और सिद्धदात्री की पूजा की जाती है. पहले दिन घटस्थापना होती है और मां शैलपुत्री की पूजा की जाती है.

धर्म से जुड़ी अन्य खबरें पढ़ने के लिए धर्म पर क्लिक करें.