Shardiya Navratri 2019 के सातवें दिन मां कालरात्रि का पूजन किया जाता है. मां कालरात्रि नवदुर्गा का सातवां स्वरूप हैं. इनका रंग काला है और ये तीन नेत्रधारी हैं.

कैसी हैं मां
मां कालरात्रि के गले में विद्युत की माला है. हाथों में खड्ग और कांटा है. वाहन गधा है. ये भक्तों का हमेशा कल्याण करती हैं. इन्हें शुभंकरी कहा गया है.

महत्‍व
मां दुर्गा का कालरात्र‍ि स्‍वरूप भयानक है. इनके शरीर का रंग घने अंधकार की तरह बिल्‍कुल काला है. ऐसी मान्‍यता है कि मां कालरात्र‍ि की उपासना करने वाले जातकों को शत्रुओं पर विजय का आर्शीवाद प्राप्‍त होता है. मां उनकी रक्षा काल से भी करती हैं. इनकी पूजा करने से भय, दुर्घटना और रोगों का नाश होता है. जो लोग शनि ग्रह से पीड़ित हैं, उन्‍हें इनकी उपासना अवश्‍य करनी चाहिए.

Festivals in October 2019: अक्‍टूबर में दशहरा, करवाचौथ समेत ये हैं पर्व-त्‍योहार, देखें संपूर्ण पांचांग…

कैसे करें पूजन
मां के समक्ष घी का दीपक और धूप जलाएं. मां को लाल फूल चढ़ाएं. मां के मंत्रों का जाप करें. दुर्गा सप्‍तशती का जाप भी कर सकते हैं. गुड़ का भोग लगाएं. मां को नारियल के लड्डू भी चढ़ाए जाते हैं. भोग लगाये गए गुड़ का आधा भाग परिवार में बांटें.

नवरात्रि
नवरात्रि के नौ दिनों के दौरान मां के नौ रूपों की पूजा की जाती है. ऐसी मान्यता है कि मां दुर्गा इस दौरान अपने भक्तों की पुकार जरूर सुनती हैं और उनकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण करती हैं.

नवरात्रि के नौ दिन के दौरान मां के नौ स्वरूपों शैलपुत्री, ब्रह्मचारिणी, चंद्रघंटा, कुष्मांडा, स्कंदमाता, कात्यायनी, कालरात्रि, महागौरी और सिद्धदात्री की पूजा की जाती है. पहले दिन घटस्थापना होती है और मां शैलपुत्री की पूजा की जाती है.

धर्म से जुड़ी अन्य खबरें पढ़ने के लिए धर्म पर क्लिक करें.