Shravan 2018: उत्तरखंड और नेपाल में आज सावन का पहला सोमवार मनाया जा रहा है. उत्तरखंड और नेपाल में सावन का महीना आज से ही शुरू हो रहा है. सावन के पहले सोमवार पर शिव मंदिरों में शिव भक्तों भीड़ उमड़ पड़ी है. खासतौर से टपकेश्वर, पृथ्वीनाथ महादेव, गढ़ी डाकरा स्थित नागेश्वर मंदिर, जंगम शिवालय में सावन के पहले दिन और पहले सोमवार के अवसर पर शिवलिंग को जल चढ़ाने के लिए सुबह से ही भारी भीड़ हो रही है. भगवान शिव का जलाभिषेक करने के लिए भक्तों को लंबे समय का इंतजार करना पड़ा, क्योंकि कतार इतनी लंबी थी कि हर भक्त को 2 से 3 घंटे का इंतजार करना पड़ रहा था. Also Read - चीन ने कई जगहों पर नेपाल की जमीन पर अवैध कब्जा किया, भारतीय खुफिया एजेंसियां सतर्क

Also Read - RAW प्रमुख से मिले नेपाल के प्रधामनंत्री केपी शर्मा ओली, शुरू हुआ 'विवाद'

सावन के सोमवार के दिन सुहागिनें भोलेनाथ का जलाभिषेक कर सुहाग की लंबी आयु की कामना करती हैं. Also Read - होटल में 3 दिन तक हुआ रेप, नेपाली लड़की यूपी पुलिस पर भरोसा न कर भागकर पहुंची महाराष्ट्र फिर...

सावन 2018: 19 साल बाद बन रहा है ऐसा संयोग, ज्योतिषीय दृष्टि से काफी अहम है इस बार का सावन, पढ़ें

बता दें कि हिन्दू पंचांग के अनुसार अन्य राज्यों में सावन का महीना 28 जुलाई से शुरू होने वाला है. लेकिन अगर गुरु पूर्णिमा के अनुसार देखें तो सावन की तिथि 27 जुलाई से ही शुरू हो रही है. लेकिन इस दिन चंद्रग्रहण लग रहा है. इसके कारण कोई पूजा नहीं होगा. अगले दिन उदया तिथि में इसे 28 जुलाई से माना जाएगा. 28 जुलाई को सुबह चार बजे से पूजा का मुहूर्त शुरू हो जाएगा. इस बार रक्षा बंधन का त्योहार 26 अगस्त को पड़ेगा और महाशिवरात्रि का त्योहार 9 अगस्त को होगा.