Shukravar Lakshmi Pujan:   शुक्रवार के दिन माता लक्ष्मी (Mata Lakshmi) की पूजा की जाती है. माता लक्ष्मी को धन, सुख और समृद्धि की देवी माना जाता है. शुक्रवार के दिन माता लक्ष्मी की पूजा,पाठ आदि की जाती है. जिन लोगों से माता लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं उन पर अपनी कृपा करती हैं. बहुत से काम ऐसे भी हैं जिन्हें करने से माता लक्ष्मी काफी नाराज भी होती हैं. इन कार्यों को करने से आपके ऊपर दुखों के पहाड़ टूट सकते हैं. आइए जानते हैं उन कार्यों के बारें में जिन्हें आपको शुक्रवार (Shukravar Niyam) के दिन भूलकर भी नहीं करने चाहिए.Also Read - Diwali 2021: दिवाली की सफाई के दौरान अगर आपको भी मिलती हैं ये चीजें तो समझ लें शुरू होने वाला है आपका अच्छा समय

– उत्तर दिशा में कभी भी कूड़ा-करकट, भंगार, रद्दी सामान इत्यादि नहीं रखना चाहिए. यह स्थान माता लक्ष्मी और भगवान कुबेर का होता है. Also Read - सुबह उठकर कर लेंगे ये काम तो मां लक्ष्मी को आपके घर आने से नहीं रोक पाएगा कोई

– शुक्रवार के दिन किसी महिला को अपशब्द नहीं बोलने चाहिए और ना ही अपमान करना चाहिए. ऐसा करने से माता लक्ष्मी नाराज हो सकती हैं. Also Read - Diwali 2020: माता लक्ष्मी को प्रिय हैं ये 6 चीजें, दिवाली पर चढ़ाएं भोग

– शुक्रवार के दिन मांस, मदिरा का सेवन नहीं करना चाहिए. ऐसा करने से माता लक्ष्मी के प्रकोप का सामना करना पड़ सकता है.

– शुक्रवार के दिन किसी को भी उधार में चीनी नहीं देना चाहिए. ज्योतिष शास्त्र में उल्लेखित है कि चीनी का संबंध शुक्र ग्रह से होता है. शुक्र को भौतिक सुख और समृद्धि का स्वामी माना जाता है. इसलिए उधार चीनी देने से शुक्र पक्ष कमजोर पड़ता है और घर में दरिद्रता आती है.

– शुक्रवार के दिन किसी के भी प्रति घमण्ड अथवा अहंकार नहीं दिखाना चाहिए. अहंकार करने वालों पर माता लक्ष्मी की कुदृष्टि होती है. इसलिए शुक्रवार के दिन ऐसे कोई भी कार्य करने से बचें, जिसमें अहंकार अथवा घमण्ड के भाव हो.

– सोई घर में भी माता लक्ष्मी का वास होता है. शुक्रवार के दिन रसोई घर एकदम साफ सुथरी और खुशबू से भरी होनी चाहिए. रसोई में जूठे बर्तन रखने से माता लक्ष्मी नाराज होती हैं.